बेगूसराय में NH 31 पर मंडल कारा के एम्बुलेंस चालक की हत्या से सनसनी

Ambulance Driver

न्यूज डेस्क : बेगूसराय में मंडल कारा के एम्बुलेंस चालक की हत्या से सनसनी फैल गयी है। मृतक एंबुलेंस के चालक के शव को देखकर पता चलता है कि बदमाशों ने कितनी बेरहमी से उसकी हत्या की। बेगूसराय नगर थाना क्षेत्र के सुभाष चौक एनएच -31 के पास सोमवार की देर रात बेगूसराय मंडल कारा के एंबुलेंस चालक 45 वर्षीय धर्मेंद्र रजक खून से लथपथ बेहोश परे थे । टाउन थाने की पुलिस के गश्ती टीम ने उसे शहर के एक निजी क्लिनिक में तुरंत भर्ती कराया। पुलिस ने इस मामले की जानकारी उसके परिजनों को दिया। मंगलवार की सुबह 5:30 बजे अलसुबह घायल व्यक्ति ने दम तोड़ दी।

परिजनों ने लगाया गम्भीर आरोप मंडल कारा के मृतक एंबुलेंस चालक का घर शहर के नगर निगम क्षेत्र के महमदपुर वार्ड नंबर 38 में है।उसके पिता का नाम स्व० पन्नू रजक है। पहले सुभाष चौक के पास गाड़ी को रुकवा कर उसे बाहर निकालकर उसके दोनों हाथो की नस काट कर जबरन एसिड पिलाया और उसकी हत्या रस्सी से गला घोट कर दिया इस तरह का आरोप उसके घर के परिजन लगा रहे हैं ।पुलिस को घटनास्थल के पास से एसिड का बोतल और रस्सी को बरामद किया है । पुलिस का कहना है कि हत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है। मृतक एंबुलेंस चालक के पुत्र संदीप कुमार ने बताया कि “पापा ने बीते सोमवार की रात में लगभग 9:00 बजे में फोन कर मुझे बताया कि बेगूसराय मंडलकारा से एक कैदी को लेकर पटना पीएमसीएच में भर्ती कराने के लिए जा रहा हूँ। मंगलवार की सुबह में हम घर लौट जाएंगे”

मंडल कारा अधीक्षक ने ये कहा बेगूसराय मंडल कारा के काराधीक्षक बी एस मेहता ने पूछने पर बताया कि सोमवार 11:30 बजे में जेल के एक विचाराधीन कैदी राम बदन सिंह 80 वर्ष को लेकर बेहतर इलाज कराने को लेकर पटना पीएमसीएच में 5 पुलिस गार्ड के साथ एंबुलेंस से पटना गया था । कैदी को वहां छोड़ने के बाद सभी गार्ड वहीं पर कैदी के साथ रुक गए ।वह खाली एंबुलेंस को लेकर बेगूसराय मंडल कारा देर रात्रि में लौट रहा था। इसी बीच किसी बदमाशों ने उसकी गाड़ी से उतारकर हत्या कर दिया। जैसा हमें जानकारी अहले सुबह के 3: 15 बजे में मिली। एंबुलेंस चालक धर्मेंद्र रजक ऑन ड्यूटी था। घटना की जानकारी अपने जिलाधिकारी और एसपी को मैंने दे दी ।

नहीं थी किसी से कोई दुश्मनी , “परिजनों का कहना है कि धर्मेंद्र को किसी से कोई दुश्मनी नहीं था। उनका कहना है कि पुलिस इस घटना को पूरी गंभीरता से ले और सभी हत्यारों की शीघ्र गिरफ्तारी करें ।मृतक धर्मेंद्र की पत्नी सावित्री देवी और उनके तीन पुत्रियां और एक पुत्र का हाल रो रो कर बुरा है ।पुलिस ने मृतक के शव को उठाकर पोस्टमार्टम के लिए बेगूसराय सदर अस्पताल भेज दिया है। मंडल कारा के एंबुलेंस चालक के मोबाइल का कॉल डिटेल निकालकर पुलिस को इस घटना का पता चलेगा ,साथ ही पुलिस सीसीटीवी कैमरा को खंगाल कर भी घटना का पता लगाएगी”

You may have missed

You cannot copy content of this page