मुखिया एवं सचिव पर गिरेगी गाज : पंचायत में लाइट लगाने में व्यापक गड़बड़ी, संबंधित लोगों पर कार्रवाई का आदेश

Light

तेघड़ा/बेगूसराय(अनंत कुमार) : तेघड़ा प्रखंड अंतर्गत निपानिया मथुरापुर पंचायत में मुखिया एवं पंचायत सचिव सदस्य के मिलीभगत से व्यापक पैमाने पर सरकारी योजना में गबन की गई है ।इस बात का खुलासा तब हुआ जब परिवादी वीरेंद्र प्रसाद सिंह की ओर से अनुमंडल लोक शिकायत पदाधिकारी तेघड़ा,में एक आवेदन दिया गया।

आवेदन की सुनवाई करते हुए अनुमंडल लोक शिकायत पदाधिकारी प्रियंका कुमारी ने विभिन्न पहलुओं पर जांच करते हुए यह पाई कि, पंचायत सचिव एवं मुखिया ने 14 की वित योजना के अंतर्गत वर्ष 2017 में निपनिया मथुरापुर पंचायत में स्ट्रीट लाइट लगवाया ।जिसमें तीन अलग-अलग कंपनियों से स्ट्रीट लाइट खरीदी गई जिसमें 11000, 9500 एवं ₹8500 की निर्धारित मूल्य दर्शाई गई और तीनों अलग-अलग कंपनी से खरीदा गया ,परंतु जब आवेदन लोक शिकायत पदाधिकारी के कोर्ट में आया तो जांच में तीनों में से एक भी कंपनी निर्धारित स्थल पर नहीं मिली। जिसके कारण मामला संदिग्ध पाया गया घटना की पूरी जांच हुई तो स्पष्ट रूप से यह खुलासा हो गया कि व्यापक पैमाने पर गड़बड़ी की गई है।

सुनवाई करते हुए अनुमंडल लोक शिकायत पदाधिकारी प्रियंका कुमारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं पंचायती राज विभाग सरकार को आदेश निर्गत करके अग्रिम कार्रवाई हेतु अनुशंसा किया है। वही इस मामले में प्रखंड विकास पदाधिकारी तेघड़ा, संदीप कुमार पांडे का कहना है कि बरीया पदाधिकारी का जो भी आदेश हैं, उसका पालन किया जाएगा तथा योजना में यदि गड़बड़ी की गई है तो विधि सम्मत जो भी कार्रवाई होगी वह किया जाएगा। यदि कोई भी व्यक्ति सरकारी रुपए का दुरुपयोग करते है ,और योजना को मनमाने ढंग से क्रियान्वित करते हैं तो वैसे लोगों को किसी भी रूप में बख्शा नहीं जाएगा।

You may have missed

You cannot copy content of this page