बिहार भर में बदले जिलाध्यक्ष , बेगूसराय में रूदल राय को कमान देकर चुनावी नुकसान के डैमेज कंट्रोल में जुटी जदयू

Rudal Rai JDU

बेगूसराय / घनश्याम देव : साल 2020 में खत्म हुए बिहार विधानसभा चुनाव में जदयू के विधायकों की संख्या 50 के नीचे पहुँचने के बाद जदयू में रास्ट्रीय नेतृत्व से लेकर जिला नेतृत्व तक बदलने की कवायद खत्म हुई ।

सोमवार को बिहार जदयू ने राज्य में 41 नए जिलाध्यक्षों की सूची जारी की गई है। ज्यादातर जिलों में पुराने जिलाध्यक्ष बदल दिए गए हैं। इस कड़ी में बेगूसराय के जदयू के नए जिलाध्यक्ष के रूप में पूर्व एमएलसी रूदल राय को पार्टी ने कमान सौंपा है।

बताते चलें कि जदयू के द्वारा लगातार पार्टी की मजबूती पर बल दिया जा रहा है। बिहार में लगातार 15 साल सत्ता में रहने के बाद आज भी प्रदेश भर में जदयू की स्थिति बहुत ठीक नहीं कही जा सकती है। नतीजन पार्टी को साल 2020 के चुनाव में दर्जनों सीटों का नुकसान उठाना पड़ा ।

बेगूसराय में जदयू का है सुपड़ा साफ , नये जिलाध्यक्ष पर जबाबदेही जिस तरह से जदयू के प्रदेश नेतृत्व ने बेगूसराय के पूर्व जिलाध्यक्ष भूमिपाल राय के जगह रूदल राय को शिफ्ट किया है। उससे आगामी समय में बेगूसराय के नए जिलाध्यक्ष रूदल राय के समक्ष बेगूसराय में पार्टी को मजबूती प्रदान करने की जबाबदेही बढ़ जाएगी ।

क्योंकि बेगूसराय में सात सीट में से चार सीट पर चुनाव लड़ रहे जदयू को एक भी सीट पर सफलता नहीं मिल पाई । यहां तक कि चेरियाबरियारपुर में पूर्व मंत्री मंजू वर्मा और मटिहानी में नरेंद्र सिंह उर्फ बोगो सिंह भी बीते चुनाव में अपनी सीट नहीं बचा पाये। फलस्वरूप बेगूसराय में जदयू का सूपड़ा साफ हो गया।

You may have missed

You cannot copy content of this page