उर्वरक निगरानी समिति की बैठक में खाद की कालाबाजारी व किसान की ज्वलंत समस्या सहित कई अन्य मुद्दे पर की गई चर्चा

Kishan

अशोक कुमार ठाकुर ,तेघरा (बेगूसराय) प्रखंड मुख्यालय तेघरा के अटल कलाम भवन के सभागार में प्रखंड उर्वरक निगरानी समिति की बैठक प्रखंड प्रमुख राम नरेश पासवान की अध्यक्षता में की गई। जिसमें निगरानी समिति से जुड़े सदस्यों ने भाग लिया। बैठक में उपस्थित सदस्यों ने विगत वर्ष रवि की मौसम में उर्वरक की कालाबाजारी पर आक्रोश व्यक्त करते हुए खुदरा विक्रेता द्वारा खाद के साथ नैनो यूरिया ,जिंक,जॉइम आदि देने पर नाराजगी व्यक्त की. सदस्यों ने बताया कि आज भी किसानों को उचित दर पर नहीं मिल रही है यूरिया व डीएपी रासायनिक खाद.

थोक विक्रेता के कारण कृत्रिम अभाव पैदा कर खुदरा विक्रेता और किसानों का शोषण किया जा रहा है। किसान नेता दिनेश सिंह ने कहा कि रवि की बुवाई में किसानों को जैविक खाद के नाम पर गलत उर्वरक देकर गौरा सहित कई क्षेत्रों में किसानों के साथ खाद विक्रेता ने बहुत बड़ा धोखा किया ऐसे विक्रेताओं पर कठोर कार्रवाई करने की मांग के साथ ही उन्होंने फसल अच्छादन को पुनः आकलन कर फसल आच्छादन के अनुरूप खाद की आवश्यकता के अनुसार खाद आपूर्ति करवाने की बातें कही उन्होंने नियम के अनुसार प्रत्येक माह निगरानी समिति की बैठक नहीं होने पर रोष व्यक्त किया। प्रखंड प्रमुख ने फसल अच्छादन के अनुरूप खाद की आवश्यकता के अनुसार भंडारण के लिए कृषि पदाधिकारी को पत्र भेजने का निर्देश दिया। साथी ही प्रत्येक माह उर्वरक निगरानी समिति की बैठक करने का भी निर्देश दिया। प्रखंड कृषि पदाधिकारी सूर्य देव महतों ने कहा कि उर्वरक विक्रेताओं को हर हाल में सरकारी गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित करना है.जीरो टॉलरेंस पर खाद बेचना है।

ये भी पढ़ें   बेगूसराय में 461 कार्टून अंग्रेजी शराब बरामद, कारोबारी फरार

उन्होंने कहा कि प्रत्येक खाद दुकान पर खाद का लाइसेंस रखना जरूरी है बिना लाइसेंस पर खाद बेचने पर कठोर कार्रवाई की जाएगी .ग्राहकों से आधार कार्ड लेकर खाद बेचने की बातें कहीं उन्होंने बताया कि यूरिया 266 रुपया प्रति बैग निर्धारित है. उन्होंने सदस्यों से निगरानी की बात कहते हुए कहा कि निर्धारित दर से अधिक मूल्य पर उर्वरक बेचने वालों की जानकारी दे ताकि वैसे विक्रेताओं पर विधि संवत कार्रवाई किया जा सके। बैठक में सभी विभागीय पदाधिकारियों की अनुपस्थिति पर भाकपा के रामेश्वर भवन स्मारक के अंचल कार्यालय सचिव रविंद्र कुमार ने कहा कि बैठक में एक भी पदाधिकारी उपस्थित नहीं हुए जिसका में घोर निंदा करता हूं उन्होंने खेद व्यक्त करते हुए जिला पदाधिकारी बेगूसराय से उनकी स्पष्टीकरण की मांग की।

बैठक में किसान नेता दिनेश सिंह, विधान परिषद प्रतिनिधि विनोद कुमार उर्फ गोरेलाल बाबा, कृषि समन्वयक वीरेंद्र प्रसाद सिंह, लेखापाल संजीव कुमार, भाजपा के राजेश कुमार गुड्डू, जदयू प्रखंड उपाध्यक्ष अविनाश कुमार, कांग्रेस के ब्रजकिशोर चौधरी, पंचायत समिति प्रतिनिधि रमेश पंडित, निपानियां मघुरापुर के मुखिया चंद्र भूषण सिंह, जदयू किसान प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अरविंद महतो सुरेंद्र कुमार, रवि शंकर कुमार के अलावे अन्य सदस्य मौजूद थे,