बेगूसराय में मां सरस्वती की प्रतिमा के सामने बार बालाओं ने पड़ोसी फूहड़ता

बेगूसराय : बेगूसराय में  कारोना कानून की सरेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है। कोरोना प्रोटोकॉल को ताक पर रखकर बेगूसराय के भगवानपुर प्रखंड क्षेत्र के कविया में चार दिवसीय मेला का आयोजन किया गया। साथ ही पूजा के नाम पर शिक्षा की देवी मां सरस्वती के सामने गुरुवार की रात फूहड़ता परोसी गई। बताया जा रहा है कि बेगूसराय जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र स्थित  मुख्तियारपुर पंचायत के कबिया में करीब एक सौ वर्षों से प्रतिमा स्थापित कर सरस्वती पूजा का आयोजन किया जाता है।इस बार भी पूजा का आयोजन किया गया। लेकिन इसमें कोरोना प्रोटोकॉल और प्रशासनिक आदेश की धज्जियां उड़ा दी गई।

प्रशासन को ठेंगा पर रखकर भव्य पूजा और मेला का आयोजन किया गया, बार बालाओं को बुलाकर फूहड़ता परोसी गई। बार बालाओं ने ऐसे-ऐसे गाने प्रस्तुत किए जिसे सुनकर सभ्य समाज की महिलाएं अपने घरों मेें बैठी शर्मसार होती रही।  लेकिन आयोजकों को इससे कोई फर्क नहीं पड़ा और वह लोग रात भर बार बालाओं केे गाने पर मस्ती करते रहे। अश्लील गानों पर पूरी रात जमकर ठुमके लगाए गए, लेकिन प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं लगी। इस संबंध में कोई भी जिम्मेदार अधिकारी कुछ बोलने के लिए तैयार नहीं हैं। लेकिन वायरल हो रहा वीडियो व्यवस्था की पूरी कलई खोल रहा है।