स्वास्थ्य मंत्री ने आयुर्वेदिक कॉलेज में व्याप्त कमी की सूचना देने का दिया निर्देश

Mangal Pandey

बेगूसराय, 11 दिसम्बर : बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने राजकीय अयोध्या शिवकुमारी आयुर्वेद महाविद्यालय बेगूसराय में सी.सी.आई.एम. के मानक के अनुसार व्याप्त कमियों की तत्काल सूचना देने का निर्देश दिया है। शुक्रवार को पटना आयुर्वेद कॉलेज अधीक्षक डॉ. विजय शंकर दुबे के नेतृत्व में मिलने गए बेगूसराय आयुर्वेदिक कॉलेज के प्राचार्य डॉ. उमाशंकर चतुर्वेदी तथा वरीय रेजिडेंट डॉ. दिलीप कुमार वर्मा को यह निर्देश दिया गया है।

प्राचार्य ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने महाविद्यालय में शैक्षणिक एवं गैर शैक्षणिक कर्मचारियों तथा महाविद्यालय में व्याप्त अन्य कमियों की जानकारी ली है। प्राचार्य ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्री को भारतीय चिकित्सा केंद्रीय परिषद के मानक के अनुरूप अगली मान्यता होने के लिए प्रधान सचिव द्वारा दिए गए अंडरटेकिंग की जानकारी दी तथा अंडरटेकिंग के अनुरूप शिक्षकों की कमी पूरा करने की बातें कही है। प्राचार्य ने बताया कि इससे पूर्व दस दिसम्बर को बिस्कोमान भवन में आयुष प्रक्षेत्र के सभी कॉलेज के प्रधान की बैठक में कार्यपालक निदेशक अरविन्द सिंह ने बेगूसराय आयुर्वेदिक कॉलेज के संबंध में कहा है कि बीएमएससीआईएल द्वारा मास्टर प्लान बनाया जा रहा है।

एक सौ विद्यार्थियों के नामांकन के हिसाब से सभी आधारभूत संरचना की प्रारंभिक तैयारी हो रही है। डीपीआर बनते ही सबसे पहले बेगूसराय में भवन निर्माण का कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा। इस बैठक में प्राचार्य द्वारा महाविद्यालय में आवश्यक मशीन एवं उपकरण तथा अन्य संसाधनों को उपलब्ध कराने की कार्य योजना प्रस्तुत की गई है।

You cannot copy content of this page