बेगूसराय में नहीं रुक रहा कोरोना संक्रमण,41 नए मामले सामने,एहतियातन अब निजी अस्पतालों में भी हो गयी है कोरोना फ़ायटिंग की व्यवस्था

डेस्क : बेगूसराय में कोरोना का रफ्तार कम होता नहीं दिख रहा है, शुक्रवार को जिले में कोविड-19 की अद्यतन स्थिति के संबंध में जिला प्रशासन द्वारा प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार कुल 41 नए मामले सामने आए हैं। सभी नए प्रभावितो के संदर्भ में स्वास्थ्य विभाग द्वारा निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत कार्रवाई की जा रही है। जिला पदाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने बताया कि विभागीय निर्देश के आलोक में जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के ईलाज हेतु स्वास्थ्य सुविधाओं का लगातार विस्तार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में सदर अस्पताल, बेगूसराय तथा बलिया अनुमंडलीय अस्पताल को डिस्ट्रिक्ट कोविड हेल्थ सेंटर (डीसीएचसी) के रूप में चिन्हित किया गया है तथा इन दोनों केंद्रो पर कुल मिलाकर 35 बेड ऑक्सीजन युक्त है जबकि शेष 90 सामान्य बेड हैं।

https://twitter.com/DM_Begusarai/status/1289142135761989633?s=20

बेगूसराय के इन निजी अस्पतालों में भी की गई है कोरोना इलाज की व्यवस्था जिले के चिन्हित निजी अस्पताल में भी कोविड-19 के मरीजों के ईलाज हेतु मरीजों के भुगतान आधार पर एक विशिष्ट संख्या में बेड कर्णाकित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि इस संबंध में सिविल सर्जन, बेगूसराय द्वारा अभी तक 08 (आठ) निजी अस्पतालों के संबंध कोविड- 19 हेतु पेड़ों को आरक्षित करने का प्रस्ताव प्राप्त हुआ है। सिविल सर्जन, बेगूसराय के प्रस्ताव के आलोक में जिले के 08 निजी अस्पतालों यथा ग्लोकल अस्पताल में 20, एलेक्सिया अस्पताल में 07, अमर ज्योति अस्पताल में 06, सिद्धि विनायक अस्पताल में 30, बी.एम. स्पता में 25, धृति जीवन अस्पताल में 10, अमृत जीवन अस्पताल में 05 एवं श्रृष्टि जीवन अस्पताल में 07 बेड कोविड मरीजों के ईलाज के लिए आरक्षित करने हेतु आदेश दिया गया है।

सभी अस्पताल प्रबंधन को कोविड-19 मरीजों हेतु आरक्षित बेड एवं नॉन-कोविड-19 मरीजों हेतु बेड को अलग अलग रखने का निदेश दिया गया। साथ ही उक्त अस्पतालों के सभी मरीजों एवं अस्पताल को कोविड-19 के प्रोटोकॉल के अनिवार्य अनुपालन हेतु भी निर्देश दिया गया है।