2 February 2023

अब शराब पीकर ड्राइव करने वालों की खैर नहीं – कहीं कार ही न दे दे आपको सजा.. जानें – नया नियम..

Sharab

डेस्क : भारत में हर साल शराब के नशे में गाड़ी चलाने के कारण हजारों लोग हादसों में मारे जाते हैं। कई देशों में लोगों को शराब के नशे में गाड़ी चलाने से रोकने के लिए सख्त नियम बनाए गए हैं। लेकिन भारत में नियम पश्चिमी देशों की तुलना में उतने सख्त नहीं हैं। इसी के चलते देश में शराब पीकर गाड़ी चलाने के लाखों मामले सामने आते हैं और देश में हजारों हादसे होते हैं. इन हादसों में कई लोगों की जान चली जाती है।

मोटर वाहन कानूनों में सुधार और बदलाव के बाद भी भारत में हर साल लाखों यातायात उल्लंघन की सूचना मिलती है। केंद्र सरकार इस संख्या को कम करने पर जोर दे रही है। इसी क्रम में भारत में वाहनों को अल्कोहल डिटेक्शन सिस्टम से लैस करने की मांग जोर पकड़ रही है। वहीं, अमेरिका में सभी कारों में यह फीचर देना शुरू करने की मांग की गई है।

ड्राइवर नशे में है या नहीं? यह डिटेक्शन सिस्टम डिटेक्ट करेगा : शराब पीकर गाड़ी चलाने के मामलों को कम करने के लिए अब कई संस्थाएं आगे आ रही हैं। हाल ही में यूएस नेशनल ट्रांसपोर्टेशन सेफ्टी बोर्ड ने एक ऐसी तकनीक विकसित की है जो यह जांच करेगी कि कार में सवार होने के बाद ड्राइवर नशे में तो नहीं है।

यह डिटेक्शन सिस्टम सभी प्रकार की कारों के सभी वेरिएंट में एक मानक फीचर के रूप में पेश किया जा सकता है। इस डिटेक्शन सिस्टम के लिए कार में कई कैमरों और सेंसर का इस्तेमाल किया गया है। कार में लगे कैमरे ड्राइवर के इशारों और प्रतिक्रियाओं पर नजर रखेंगे।