पारण के साथ ही 36 घंटे चला जितिया व्रत सम्पन्न

Jitya

भगवानपुर (बेगूसराय) पुत्रवती महिलाएं पुत्र के दीर्घायु जीवन की कामना से जीवित्पुत्रिका व्रत करती है। उक्त व्रत प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न गांवों की पुत्रवती महिलाओं ने की। उक्त व्रत के दौरान अष्टमी तिथि में महिलाएं अन्न जल ग्रहण नहीं करती है।

इस वर्ष महिलाओं ने उक्त व्रत को लेकर शुक्रवार को नहाय खाय की तथा शुक्रवार को ही सुबह में ओठगन किया उसके बाद पुरे 36 घंटे का व्रत जो इसवर्ष तिथि के अनुसार हुआ में सम्मिलित हो गई। शनिवार को पुरे दिन व रात तथा रविवार को पुरे दिन उपवास में रही तत्पश्चात् शाम पांच बजे स्नान पूजा के उपरांत पारण किया।

कुछ महिलाएं इस दौरान कुछ ज्यादा कमजोरी महसूस करते लगी थी, लेकिन व्रत में कहीं कोई व्यवधान उत्पन्न नहीं हुआ।इस व्रत का पारण पूर्व खीरा खाया जाता है।इस वर्ष खीरा का भाव आसमान छू रहा था, कहीं 60, कहीं 80तो कहीं 100 रूपये प्रति किलो खीरा बिक रहा था।

ये भी पढ़ें   प्रखंड क्षेत्र में मनाये गये गांधी जयंती