December 1, 2022

खूब मजे से चलाएं AC, बावजूद भी कम आएगा बिजली बिल, बस इन बातों का रखना होगा ख्याल..

Bijli Meter and ac performance

डेस्क : AC के ज्यादा इस्तेमाल से ही लोगों के मन में बिजली के बढ़ते बिल की टेंशन आती है। लेकिन क्या गर्मी में एसी से राहत पाने और अधिक बिजली बिल न भरने का कोई उपाय है? जी हां, हम आपको एसी को सही तरीके से इस्तेमाल करने के कुछ तरीके बता रहे हैं, जो आपके बहुत काम आएंगे। जैसे-जैसे गर्मी और तापमान बढ़ रहा है,

खूब मजे से चलाएं AC, बावजूद भी कम आएगा बिजली बिल, बस इन बातों का रखना होगा ख्याल.. 1

एयर कंडीशनर की जरूरत भी बढ़ती जा रही है। लेकिन एसी के ज्यादा इस्तेमाल से लोगों के मन में बिजली के बढ़ते बिल की टेंशन ही आती है. लेकिन क्या गर्मी में एसी से राहत पाने और अधिक बिजली बिल न भरने का कोई उपाय है? जी हां, हम आपको एसी को सही तरीके से इस्तेमाल करने के कुछ तरीके बता रहे हैं, जो आपके बहुत काम आएंगे।

खूब मजे से चलाएं AC, बावजूद भी कम आएगा बिजली बिल, बस इन बातों का रखना होगा ख्याल.. 2
खूब मजे से चलाएं AC, बावजूद भी कम आएगा बिजली बिल, बस इन बातों का रखना होगा ख्याल.. 6

यहाँ कुछ सुझाव दिए गए हैं जिन्हें आपको एसी का उपयोग करते समय ध्यान में रखना चाहिए।

अपने AC को सही तापमान पर सेट करें : शोध से पता चला है कि तापमान में हर डिग्री की बढ़ोतरी से करीब 6 फीसदी बिजली की बचत होती है। आप अपने एसी का तापमान जितना कम रखेंगे, उसका कंप्रेसर उतनी देर काम करेगा, जिससे आपका बिजली बिल बढ़ जाएगा। इसलिए यदि आप एसी को उसके डिफ़ॉल्ट तापमान पर चालू रखना चुनते हैं, तो आप 24 प्रतिशत तक बिजली बचा सकते हैं। आप चाहें तो फिर भी तापमान को जितना चाहें उतना कम रख सकते हैं।

खूब मजे से चलाएं AC, बावजूद भी कम आएगा बिजली बिल, बस इन बातों का रखना होगा ख्याल.. 3
खूब मजे से चलाएं AC, बावजूद भी कम आएगा बिजली बिल, बस इन बातों का रखना होगा ख्याल.. 7

अपने AC को 18 डिग्री सेल्सियस के बजाय 24 डिग्री सेल्सियस पर रखें : अगर आप दिल्ली, मुंबई, बैंगलोर और चेन्नई जैसे शहरों में रहते हैं, जहां का तापमान 34℃ से 38℃ तक प्रतिदिन रहता है। तो अपने एसी को 10 डिग्री कम पर सेट करना पहले से ही एक बड़ी राहत है। साथ ही हमारे शरीर का तापमान औसतन 36 से 37 डिग्री के बीच रहता है। इसलिए, इससे नीचे का कोई भी कमरा हमारे लिए सामान्य रूप से ठंडा होता है। अब हम जानते हैं कि एसी पर कोई भी डिग्री कम होने पर 6 प्रतिशत अधिक बिजली की खपत होगी। ऐसे में आपको अपनी आदत को 18 डिग्री से 23-24 डिग्री पर लाना होगा। आपको पता चल जाएगा कि आपको इस तापमान पर भी उचित कूलिंग मिल रही है।

खूब मजे से चलाएं AC, बावजूद भी कम आएगा बिजली बिल, बस इन बातों का रखना होगा ख्याल.. 4

अपना कमरा ठीक से बंद करें : जब हम एयर-कंडीशनर के बारे में बात करते हैं, तो दरवाजा बंद न करना एक बिना दिमाग के लगता है। लेकिन यह भी सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि आपकी सभी खिड़कियां कसकर बंद हैं, और यह कि ठंडी हवा कमरे से बाहर नहीं निकल रही है। पर्दों को खींचो ताकि सूरज की गर्मी आपके कमरे में न जाए, सूरज की किरणें एसी पर भार बढ़ा दें। एसी का उपयोग करते समय टीवी, फ्रिज, कंप्यूटर जैसे बिजली के उपकरणों का उपयोग करने से बचें क्योंकि ये उपकरण बहुत अधिक गर्मी उत्पन्न करते हैं। एसी चालू करने से पहले इन्हें बंद कर दें, कमरे के ठंडा होने के बाद आप इन्हें फिर से चालू कर सकते हैं। जब आप एसी का इस्तेमाल कर रहे हों तो इस बात का ध्यान रखें कि कोई भी फर्नीचर एसी की हवा को नहीं रोक रहा हो।

ये भी पढ़ें   Jio यूजर्स की आई मौज! महज 30 रुपये में 90 दिनों तक हर दिन 2GB डेटा और अनलिमिटेड Calling..

बिजली बचाने के लिए स्विच को On और Off करें : क्या आप कभी कांपते हुए उठे हैं और एसी बंद करना पड़ा है? ऐसा शायद इसलिए है क्योंकि कमरे को बेहद ठंडा रखने के लिए आपका एयर AC रात भर चालू था। ऊर्जा बचाने और आराम से रहने का एक तरीका यह है कि इसे रात में बंद कर दिया जाए। खासकर अगर आप इसे दिन भर चला रहे हैं तो रात में आपको इसकी इतनी जरूरत नहीं पड़ेगी। अगर आप एसी वाले कमरे में ज्यादा समय बिता रहे हैं तो आपको इस ट्रिक का इस्तेमाल करना चाहिए। कुछ घंटों के लिए एसी चालू रखें और फिर एक या दो घंटे के लिए बंद कर दें। बहुत सारी बिजली की बचत करते हुए कमरा ठीक से ठंडा रहेगा।

AC के साथ पंखे के इस्तेमाल करे : जब एसी चल रहा हो तो सीलिंग फैन चालू रखना चाहिए। इसके अलावा, छत के पंखे कमरे को हवादार रखते हैं और सभी कोनों में ठंडी हवा प्रसारित करते हैं। जिससे आपको एसी का तापमान कम नहीं करना पड़ेगा। कम शक्ति का उपयोग करके अधिक शीतलन प्राप्त करें। एसी चालू करने से पहले अपने कमरे का पंखा चालू कर लें ताकि कमरे में गर्म हवा निकल सके, जिसके बाद आप अपना एसी चालू कर सकें।

AC की सर्विस और सफाई से होगी बिजली की बचत : AC के डक्ट और वेंट में गंदगी जमा होने के कारण एसी को ठंडी हवा को कमरे में लाने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। गंदे फिल्टर को हटाकर नया फिल्टर लगाने से एसी की ऊर्जा खपत 5 से 15 प्रतिशत तक कम हो जाती है। इसके अलावा एसी को खराब होने और रिपेयर करने से भी बचाया जाता है।