Friday, July 19, 2024
Railway News

Indian Railway : देश के ये 2 सबसे खास रेलवे स्टेशन, जहां उतरकर विदेश कर सकते हैं यात्रा, जानें कैसे

Indian Railway: भारत में हर रोज करोड़ों लोग ट्रेन से सफर करते हैं और भारतीय रेल की ओर से रोजाना 22,593 ट्रेन चलाई जाती है. जो लगभग 7325 स्टेशनों से होकर गुजरती हैं. यह ट्रेन है देश के कोने-कोने में स्थित अलग-अलग स्टेशनों तक पहुंचती है.

लेकिन क्या भारत के आखिरी रेलवे स्टेशन के बारे में जानते हैं, जहां पहुंचने के बाद भारतीय रेलवे की सीमा समाप्त हो जाती है. इतना ही नहीं आप इस स्टेशन पर उतरने के बाद सीधे पैदल चलकर आसानी से विदेश में भी यात्रा कर सकते हैं. दरअसल, देश का आखरी रेलवे स्टेशन पूर्वी सीमा में स्थित है जो अपने कई खूबियों के कारण देश भर में काफी प्रसिद्ध है. आई इस रेलवे स्टेशन के बारे में जानते हैं.

कहां है देश यह कई खूबियों वाला रेलवे स्टेशन ?

बंगाल के कोने में स्थित या देश का सबसे आखरी रेलवे स्टेशन है. जिसका नाम सिंहा बाद है. जो मालदा जिले के हबीबपुर में स्थित है और यह बांग्लादेश की सीमा से लगा हुआ है. लेकिन सोचने वाली बात यह है कि इस रेलवे स्टेशन पर आप केवल माल गाड़ियों का ही आवा-गमन होता है.

पाकिस्तान और भारत के युद्ध से बंद हुआ ये रेलवे स्टेशन

देश का यह आखिरी रेलवे स्टेशन बांग्लादेश की सीमा के इतने करीब है कि, यहां से लोग पैदल आसानी से दूसरे देश यानी नेपाल पहुंच सकते हैं. इसके अलावा इस रेलवे स्टेशन को भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के दौरान बंद कर दिया गया था.

लेकिन 1978 में इसे एक बार फिर शुरू किया गया और इस स्टेशन की खास बात है कि, यहां सिग्नल से लेकर मशीन तक अंग्रेजों के जमाने का है. लेकिन रास्ते की बात है कि इतना बड़ा रेलवे स्टेशन होने के बाद यहां से केवल दो यात्री ट्रेन गुजरते हैं और बाकी सभी ट्रेन मालगाड़ी होती है.

सिंहाबाद के अलाव देश में एक और रेलवे स्टेशन है, जहां से आप उतरकर पैदल विदेश आसानी से जा सकते हैं. यह रेलवे स्टेशन बिहार के अररिया जिले में जब बनी है इस रेलवे स्टेशन पर उतरकर आप नेपाल यानी विदेश जा सकते हैं. हालांकि अगर आप नेपाल जाने का प्लान कर रहे हैं या फिर जाना चाहते हैं तो आपको इस बारे में जरूर जानकारी होगी कि भारत के लोग नेपाल बिना वीजा पासपोर्ट के सफर कर सकते हैं.

Vivek Yadav

विवेक यादव डिजिटल मीडिया में पिछले 2 सालों से काम कर रहे हैं. thebegusarai में विवेक बतौर कंटेंट राइटर कार्यरत हैं. इससे पहले 'एमपी तेजखबर' के साथ इन्होंने अपनी पारी खेली है. विवेक ऑटो, टेक, बिजनेस, नॉलेज जैसे सेक्शन में लिखने में इनकी विशेष रुचि है. इन्होंने माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय से अपनी स्नातक की पढ़ाई की है। काम के अलावा विवेक को किताबें पढ़ना, लिखना और नई जानकारी जुटना काफी अच्छा लगता है।