पर्यावरण दिवस पर संकल्प : दिवंगत ब्रजेन्द्र कुमार बंटी के याद में मंझौल के युवा लगाएंगे 10,000 पेड़

Banti Ji

न्यूज डेस्क : 5 जून को पर्यावरण दिवस के अवसर पर लोकप्रिय समाजसेवी एवं विचारक स्व ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह की स्मृति में मंझौल के युवाओं द्वारा अभिषेक कुमार के नेतृत्व में “हरियाली” नाम से वृक्षारोपण कार्यक्रम का शुरुआत किया गया। इस कार्यक्रम के तहद पूरे गाँव मे ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह “बंटी” की स्मृति में 10,000 वृक्ष लगाने का ग्रामीण युवाओं ने संकल्प लिया।

कार्यक्रम पर प्रकाश डालते हुए आयोजक समिति के तरफ से अभिषेक कुमार ने कहा कि करोना संकट में हुए ऑक्सीजन की कमी से परेशान जनमानस इस कार्यक्रम की सफलता के बाद स्वछंद सांस ले सकेंगे। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए पत्रकार पुष्पराज ने कहा कि जिस गाँव मे हरियाली है उस गाँव मे करोना पीड़ितों की संख्या कम है और ऐसी आपदा से लोहा लेने में सरकार पूर्णतः विफल है। बंटी जी खुद करोना वारियर थे,उन्होंने अपने हॉस्पिटल के माध्यम से बहुत से लोगों की करोना में रक्षा की।

सरकार को चाहिए कि करोना वारियर का अनुदान बंटी जी एवं उनके परिवार को मुहैया करवाये। वहीं सभा को संबोधित करते हुए दिवंगत बंटी के छोटे भाई बल्लभ बादशाह ने कहा कि “मैंने भैया को पल पल ऑक्सीजन के लिए मरते हुए देखा है। और भविष्य में ऐसा किसी के साथ ना हो उसके लिए युवाओं का ये पहल प्रकृति के लिए वरदान साबित होगा।” कार्यक्रम पर अपने विचार रखते हुए महेंद्र सावित्री कॉलेज के पूर्व प्राचार्य रामकुमार ने कहा कि बंटी जी के स्मृति में किया गया यह कार्य ऐतिहासिक है और हम सब मिलकर युवाओं का हर तरीके से मदद करेंगे।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अंतरराष्ट्रीय पक्षीविद अली हुसैन साहब ने काव्य ,वेद की सम्मिलित चर्चा करके ब्रजेन्द्र कुमार बंटी को श्रधांजलि अर्पित किया। सभा को संबोधित करते हुए प्रो संजय सिंह ग्रामीणों को बढ़ चढ़ कर भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया और कार्यक्रम कर रहे युवाओं को सहयोग करने का अनुरोध किया। कार्यक्रम में ग्रमीणों की तरफ से वृक्ष के लिए कई अनुदान दिए गए।

हम नौजवानों ने जो बीड़ा उठाया है उसका निर्वहन किसी भी परिस्थिति में करेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रो रामाज्ञा प्रसाद सिंह ने धन्यवाद ज्ञापन करते हुए कहा कि यह कार्यक्रम निश्चित रूप से अपनें मुकाम पर पहुँचे एवं वृक्ष के बढ़ने तक युवा इसकी देखभाल करते रहें ऐसा उन्हें गांव के युवाओं पर पूरा भरोसा है। कार्यक्रम में अन्य लोगों ने भी दिवंगत बंटी को श्रद्धांजलि देते हुए अपने अपने विचार रखे।

You cannot copy content of this page