बदकिस्मती ने नहीं छोड़ा साथ माँ के मरने के तीन दिन बाद युवक की हुई मौत, वजह जान हो जाएंगे हैरान

Dog Bite Begusarai Bihar

खोदावंदपुर/बेगूसराय. कुत्ता काटने से एक युवक की मौत हो गयी.मृतक फफौत पंचायत के मालपुर गांव के वार्ड 17 निवासी विशुनदेव महतो का 30 वर्षीय पुत्र अमलेश कुमार है. बेगूसराय से शनिवार को लाश पहुंचते ही उसके परिजनों में कोहराम मच गया. अमलेश की मां की मृत्यु बीमारी के कारण तीन दिन पूूूर्व ही हुई थी. इस परिवार पर टुटे दुखों के पहाड़ से मालपुर गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है.

एक माह पूूूर्व ही अमलेश को काट लिया था पागल कुत्ता- परिजनों ने बताया कि अमलेश को एक माह पूर्व एक पागल कुत्ते ने काट लिया था.अत्यंत गरीब परिवार से जुड़े अमलेश ने रेबीज की सुई नहीं ली.बल्कि झाड़ फूक से इलाज करवाया.शुक्रवार की सुबह में अचानक उसकी तबीयत खराब होने से उसे इलाज के लिए बेगूसराय के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया. जहां इलाज के दौरान उसने शनिवार को अपना दम तोड़ दिया.

तीन बच्चों के सर से उठा पिता का साया- मृतक अमलेश के तीन छोटे- छोटे बच्चे हैं. जिनमें 6 वर्षीय पुत्री अन्नू प्रिया, 4 वर्षीय पुत्र आदित्य कुमार एवं 6 माह का पुत्र आर्यन कुमार शामिल हैं. इन छोटे बच्चों को यह नहीं बता कि उसके सर से पिता का साया उठ चुका है.

परिजनों में मचा है कोहराम- अमलेश की मौत से उसके परिजनों में चिख-पुकार मची हुयी है.अपने तीन भाइयों में सबसे छोटे अमलेश की मौत से उसके भाई मिट्ठू महतो व दिनेश महतो का रो रोकर बुराहाल है.अमलेश की पत्नी आरती देवी पर दुखों का पहाड़ टुट पड़ा है.अब वह किसके सहारे जीयेगी.उसे कौन खिलायेगा. उसके तीनों बच्चों का भरण पोषण कैसे होगा. वह रोते रोते बार-बार बेहोश हो रही थी.अपने जवान बेटे की मौत से पिता विशुनदेव महतो पर मुसीबत का पहाड़ टुट पड़ा है.उसका कलेजा फटा जा रहा है कि तीन दिन पूर्व 65 वर्षीय पत्नी कौशल्या देवी का निधन हो गया और शनिवार को जवान बेटे अमलेश की मौत ने उसे पागल सा बना दिया है.सांत्वना देने पहुंचे पड़ोस के लोगों का धीरज जवाब दे रहा है. लोगों की आंखें नम हो रही है.तीन दिन के अंतराल पर मां- बेटे की मौत से पूरे मालपुर गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया है.

You cannot copy content of this page