Friday, July 12, 2024
Business

LIC Policy! रोजाना लगाएं बस इतने पैसे, मिलेंगे 27 लाख रुपये, जानें – स्कीम के बारे में…..

LIC : हमारे देश में भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) द्वारा कई सारी स्कीम हर आय वर्ग के लिए शुरू की गई है। ऐसे में कुछ स्कीम बेटियों के लिए भी शुरू की गई है ताकि मां-बाप उनकी पढ़ाई और शादी के खर्च की चिंता ना करें। आज हम आपको LIC की कन्यादान पॉलिसी के बारे में बताने जा रहे हैं जो विशेष तौर पर बेटियों के लिए शुरू की गई है। इस योजना में हर रोज निवेश कर आप एक मोटी रकम प्राप्त कर सकते हैं।

LIC द्वारा शुरू की गई कन्यादान पॉलिसी (Kanyadan Policy) बेटियों के लिए है और इस सिक्योर स्कीम में निवेश कर आप बेटियों की शादी और पढ़ाई के समय होने वाली आर्थिक परेशानियों से छुटकारा प्राप्त कर सकते हैं। आपको बता दें कि LIC की इस योजना में आपको हर रोज 210 रुपये यानी हर महीने 3600 रुपये निवेश करने होंगे। ये निवेश आपको 25 साल तक करना होगा और मैच्योरिटी के समय आपको एक साथ 27 लाख रुपये मिलेंगे।

ये भी है दूसरा प्लान

लेकिन अगर आप LIC की 25 साल तक निवेश नहीं करना चाहते तो आप इसमें 13 साल तक भी निवेश कर सकते हैं। इसके अलावा हर रोज 210 रुपये जमा नहीं कर सकते है तो आप 75 रुपये रोजाना भी निवेश कर सकते है। इस तरह हर महीने 2,250 रुपये आपको 25 साल तक जमा करने होंगे जिसके बाद आपको 14 लाख रुपये मिलेंगे। इस पॉलिसी में आप समय और फंड को कम या ज्यादा कर सकते है जिसका असर आपको मिलने वाले लाभ पर पड़ेगा।

क्या है इस पॉलिसी की खासियत

LIC की कन्यादान पॉलिसी में (Kanyadan Policy) निवेश करने के लिए बेटी की उम्र कम से कम 1 साल होनी चाहिए। इसमें निवेश करने पर इनकम टैक्स बेनिफिट 1961 के सेक्शन 80C के तहत आपको 1.5 लाख रुपये का टैक्स बेनिफिट मिलता है। मैच्योरिटी पर मिलने वाली रकम का इस्तेमाल आप बेटी की शादी के लिए या उसकी हायर स्टडीज के लिए कर सकते हैं।

पॉलिसी होल्डर की मृत्यु हो जाने पर

लेकिन अगर किसी कारणवश बीच में ही पॉलिसी होल्डर की मृत्यु हो जाती है तो उसके नॉमिनी को 10 लाख रुपए दिए जाते हैं। इसके अलावा मेच्योरिटी पीरियड पूरा होने पर पॉलिसी धारक की मौत होती है तो उसे 27 लाख रुपए मिलते हैं।

इन दस्तावेजों की होगी जरूरत

LIC की कन्यादान पॉलिसी (Kanyadan Policy) में निवेश करने के लिए आपको आधार कार्ड (Aadhar Card), इनकम सर्टिफिकेट (Income Certificate), एड्रेस प्रूफ, पासपोर्ट साइज फोटो और बेटी की बर्थ सर्टिफिकेट  (Birth Certificate) की जरूरत होगी।

Durga Partap

दुर्गा प्रताप पिछले 1 सालों से बतौर Editor में के रूप में thebegusarai.in से जुड़े। इन्हें बिजनेस, ऑटोमोबाइल्स और खेल जगत से जुड़ी खबरे को गहराई से लिखने में काफी दिलचस्पी है। पिछले 5 साल से वह कई समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में लगातार योगदान देते रहे हैं। दुर्गा ने MDSU से BCA की पढ़ाई पूरी की है।