8 February 2023

भगवा बिकिनी ही नहीं फिल्म का एक एक डायलाग भड़का रहा है लोगों की धार्मिक आस्था

deepika padukone

Desk : पठान फिल्म के गाने ‘बेशर्म रंग’ को लेकर बढ़ते विवाद के बीच एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण कतर के लिए रवाना हुईं। बेशर्म रंग गाने में दीपिका की बिकिनी ड्रेस के भगवा रंग को लेकर राजनीति जगत से जुड़े लोग और कई हिन्दू संगठन अपना विरोध दर्ज करा चुके हैं। इस बीच दीपिका की फिल्म ‘बाजीराव मस्तानी’ का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

जब से फिल्म पठान का पहला गाना ‘बेशर्म रंग’ रिलीज हुआ है तब से विवाद खड़ा हो गया है। गाने में दीपिका के डांस और शाहरुख़ खान के साथ उनकी कैमस्ट्री लोगों को खूब पसंद आ रही है। तमाम विवादों के बावजूद ये गाना यूट्यूब पर ट्रैंड कर रहा है। लोग इस गाने की जमकर तारीफ कर रहे हैं।


क्या है वायरल डायलॉग? दीपिका और रणवीर सिंह की फिल्म बाजीराव मस्तानी में एक्ट्रेस ने मस्तानी का रोल निभाया है। सोशल मीडिया पर इसी फिल्म का एक डायलॉग वायरल हो रहा है, जिसमें दीपिका प्रियंका चोपड़ा के बच्चे की मुँह दिखाई पर शगुन लेकर जाती हैं, जो हरे रंग के कपड़े से ढंका होता है। इसपर वहां खड़ा एक किरदार कहता है कि “केसरिया रंग का वस्त्र ले आतीं, इसमें हरे रंग का विष लाने की क्या जरुरत थी?

इसपर दीपिका कहती हैं “ये सच है हर धर्म ने अपना रंग चुन लिया है पर रंग का तो कोई धर्म नहीं होता, हां कभी-कभी इंसान का मन जरूर काला हो जाता है जो उसे रंग में भी धर्म दिखा देता है। वीडियो में दीपिका आगे कहती हैं, दुर्गा की मूर्ति बनाते वक़्त उसको हर रंग का चूड़ा, हरे रंग का शालू और हरे रंग की चोली पहनते हैं। दरगाह में बड़े-बड़े पीर-फकीरों की मजार पर केसरिया रंग की चादर चढ़ाते है तब तो आपको रंग का ख्याल नहीं आता।


भगवा बिकिनी को बताया हिन्दू धर्म का अपमान : दरअसल, जब से बेशर्म रंग गाना रिलीज हुआ है तब से दर्शकों का एक समूह फिल्म को बैन करने की मांग उठा रहा है। क्योंकि गाने में दीपिका ने भगवा रंग की बिकिनी पहनी हुई है, जिसे कई हिन्दू संगठन हिन्दू धर्म का अपमान बता रहे हैं। सोशल मीडिया का एक तबका लगातार फिल्म को बैन की बलि चढ़ाने की कोशिश में जुटा हुआ है।