बिहार में बदला मौसम…याश तूफान ने रास्ता बनाया आसान, जाने राज्य में कब दस्तक देगा मानसून?

Mansoon Bihar

न्यूज़ डेस्क : बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान यास बंगाल, ओडिशा और झारखंड होते हुए बिहार तो पहुंचा पर अब यह कमोजर पड़ गया है। हालांकि, सूबे में दो दिनों से हो रही लगातार बारिश के कारण जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है।

वहीं, मौसम विभाग का कहना है कि उत्तर बिहार में आज (शनिवार) भी कुछ जगहों पर भारी बारिश हो सकती है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार ‘यास’ अब यूपी के पूर्वांचल क्षेत्र में प्रवेश कर चुका है और प्रदेश के अधिकतर हिस्सों में हवा की रफ्तार और बारिश की तीव्रता कम हो गई है। अगले 24 घंटों में यह और भी कम हो जाएगी क्योंकि, चक्रवात यास कम दबाव के क्षेत्र के रूप में बदलकर राज्य के उत्तर पश्चिम दिशा में आगे बढ़ गया है।‌

सितंबर तक होती रहेगी मानसून की बारिश: वहीं, मौसम विभाग की मानें तो तूफान ‘यास’ ने मानसून को काफी मदद की है। वर्तमान में अंडमान निकोबार समूह के द्वीपों के आस-पास दक्षिण-पश्चिम मानसून काफी तेज हो गया है। अगले दो दिनों में इसके केरल में दस्तक देने की प्रबल संभावना है। इसके बाद यह धीरे-धीरे उत्तर भारत की तरफ कूच करेगा। मौसम मामले के जानकारों के अनुसार, तूफान के कारण प्रदेश की हवा में काफी नमी भर गई है। यह नमी तूफान को आगे बढ़ने में काफी मददगार साबित हो सकती है। जिसके कारण प्रदेश में इसबार अच्छी बारिश होने की संभावना है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि सबकुछ सही रहा तो बिहार में पूर्णिया के रास्ते मानसून 13 जून के करीब प्रवेश कर सकता है । बिहार में समान्यत: जून से लेकर सितंबर तक मानसून की बारिश होती है। लेकिन, इस साल सामान्य से अधिक बारिश होने के आसार हैं।

You cannot copy content of this page