बिहार के दो शिक्षकों ने लहराया परचम, देश के राष्ट्रपति अपने हाथों से करेंगे सम्मानित, मिलेगा ईनाम

Teacher Bihar

न्यूज डेस्क : बिहार को ज्ञान का खजाना कहा जाता है। हर वर्ष संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) में बिहार के लोग अपने ज्ञान का परिचय पूरे देश को देतें हैं। और उनलोगों का बेस बिहार में पढ़ा रहे शिक्षकों के द्वारा ही तैयार किया जाता हैं। इसी कड़ी में राज्य के दो शिक्षक हरिदास शर्मा और चंदना दत्त को राष्ट्रीय पुरुस्कार के लिए चुना गया है।

दरअसल इस वर्ष राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए बिहार के भी 2 शिक्षकों को चुना गया है। चयनित शिक्षक हरिदास शर्मा बिहार के कैमूर जिले में रामगढ़ के आरके मिडिल स्कूल (डरहक) के प्रधानाध्यापक (Headmaster) हैं। वहीं बात करें शिक्षिका चंदना दत्त की तो वे मधुबनी जिले में राजनगर के रांटी गांव में स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालय में कार्यरत हैं। दोनों चयनित शिक्षकों की उपलब्धि ने पूरे राज्य का मान बढ़ाया है।

बतादें कि शिक्षा मंत्रालय के द्वारा बीते बुधवार को पूरे देश के 44 शिक्षकों के नाम की सूची जारी की गई, जिनको हजारो की संख्या में बच्चों के जीवन को शिक्षित करने के लिए पांच सितंबर शिक्षक दिवस के दिन राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। सूची में आने वाले सभी शिक्षकों को राजधानी दिल्ली में राष्ट्रपति ‘राम नाथ कोविंद’, एक पदक, एक प्रमाण पत्र और 50,000 रुपये नगद राशि के साथ सम्मानित करेंगे।

You may have missed

You cannot copy content of this page