Bihar में अब हेलीकॉप्टर से घूमेंगे पर्यटक, टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई सेवा, जानें – किराया..

Bihar Helicopter Travel

डेस्क : पर्यटन के क्षेत्र में बिहार में पिछले कुछ वक्त से काफी ध्यान दिया जा रहा है। जगह-जगह पर कुछ यूनिक कार्य किए जा रहे हैं। जो पर्यटकों का ध्यान आकर्षित कर सके,और इसी कड़ी में बिहार सरकार ने बिहार घूमने के लिए आने वाले पर्यटकों को एक नया अनुभव जल्द ही देगी।

बिहार में पर्यटकों के लिए जल्द ही हेलीकॉप्टर सेवा शुरू की जाएगी। बिहार सरकार राजधानी पटना के साथ राजगीर ,बाल्मीकि नगर, गया, बोधगया ,जमुई के लिए हेलीकॉप्टर सेवा शुरू करने की तैयारी में है। यह अनुभव पर्यटकों के लिए बिल्कुल नया सा होगा। राजधानी पटना के साथ राज्य की कुछ पर्यटन क्षेत्रों में यह व्यवस्था की जाएगी जहां पर पर्यटक कम वक्त में ही पहुंच पाए।

दो बर्षो की कोशिस के बाद अब पूरा हो पाएगा हेलीकॉप्टर के पर्यटन का प्रयास : बिहार टूरिज्म को बढ़ावा देने की कवायद से करीब दो वर्ष पूर्व से ही इस सेवा को शुरू करने की बात चल रही है। जिस पर विभाग को काफी अच्छा रिस्पांस पर मिला है। हेलीकॉप्टर उपलब्ध करवाने वाली कंपनियों के लिए भी विभाग में अब मानक तय कर लिए हैं। जिन कंपनियों द्वारा सारे मानकों को पूरा किया जाएगा, उनको ही सेवा देने का अवसर दिया जाएगा। यह मानक हेलीकॉप्टर की कैपेसिटी ,पर्यटकों की सुरक्षा से लेकर किराए तक लिए जाने के संबंध में है।

जानकारी के अभाव में लोग नहीं पहुँच पाते है पर्यटन स्थल तक : बिहार के पर्यटन का पूरी दुनिया में अलग स्थान है। यहां हर चीज प्रकृति ने संपूर्ण मात्रा में दिया है। बिहार में घूमने वाले जगह की कमी नहीं है। लेकिन जानकारी के अभाव में लोग इसे समझ ही नहीं पाते हैं। हालांकि पिछले कुछ वर्षों से राज्य पर्यटन विभाग जगहों को विकसित करने में काफी सक्रियता दिखा रही है।जिसका नतीजा है कि लोग बिहार की तरफ आकर्षित हो रहे हैं। बिहार में प्राकृतिक चीजें झील, नदियां ,तालाब, पहाड़ सब है और अब इनकी देखरेख होने के बाद पर्यटक हर बार एक नया अनुभव लेकर अपने साथ जाएंगे।

ये भी पढ़ें   बिहार : शौच करने के लिए बैठा था बाबा..बस ऊपर से चला दिया बुलडोजर, फिर आगे जो हुआ आप सोच नहीं सकते..

पिछले कुछ वर्षों में विदेशी पर्यटकों की संख्या में हुई है अप्रत्याशित वृद्धि : पर्यटन विभाग के आंकड़ों की बात की जाए तो कुछ गत वर्षो में बिहार में आने वाले पर्यटकों की संख्या में अप्रत्याशित रूप से वृद्धि हुई है। 2020 में 5,00000 से भी अधिक विदेशी पर्यटक गया और बोधगया आए थे जबकि इसके एक वर्ष पूर्व ही 2019 में राजगीर में 1.8 लाख और नालंदा में 1.7 लाख सिर्फ विदेशी पर्यटक आए थे।

लोकल पर्यटकों की संख्या को मिला दे तो यह और भी बढ़ जाएगा। भूटान से भारी संख्या में लोग बोधगया आते हैं। बांका स्थित ओढ़नी बांध में भी पर्यटक आकर मोटर बोट का आनंद लेते हैं। तथा विभाग द्वारा निर्मित अमावा झील में पैराशूट का भी आनंद लिया जा सकता है। अब ऐसी उम्मीद की जा रही है कि हेलीकॉप्टर सर्विस अगर पर्यटकों को प्रोवाइड करवाई जाएगी तो वह स्ट्रेस फ्री यात्रा कर सकेंगे और एक ही दिन में कई लोकेशन पर घूम सकेंगे। राज्य पर्यटन विभाग द्वारा लगातार कोशिश की जा रही है कि पर्यटन के क्षेत्र में बिहार को अग्रणी बनाया जाए।