चुनाव के परिणामो से साफ़ हो गया की बाहुबलियों की धमक से गूंजने वाला है सदन

anant singh

डेस्क : मोकामा से बाहुबली अनंत सिंह की जीत हुई है ऐसे में उनका नाम अनेकों बाहुबलियों में से आता है जिनके ऊपर गंभीर आरोप लगे हैं। आपको बता दें कि इस वक्त भी उनको जेल की सजा मिली हुई है। इस बार के चुनावों में उन्होंने अपनी पार्टियों की मेहरबानी की वजह से टिकट पाया और टिकट पा कर उसपे जीत हासिल की। ऐसे में इस बार साफ हो गया है कि सदन में बाहुबलियों की धमक होने वाली है और अगर बात करें दुसरे नेताओं की तो उसमें बाहुबली नेता रीतलाल यादव की जीत हुई है जिन्होंने राजद के टिकट पर पहली बार जीत हासिल करके विधानसभा की ओर रुख किया है।

इस बार के विधानसभा चुनाव में कई ऐसे नेताओं ने हिस्सा लिया जो अपने ऊपर गमगीन आरोप लगने की वजह से जेल में बंद है या तो वह जमानत पर छूटे हैं। ऐसे में वोटरों की ओर से भी काफी भारी तादाद में समर्थन दिखाया गया है। इन आरोपियों पर दुष्कर्म धमकी और अपहरण जैसे मामले दर्ज है। अगर बात करें बेगूसराय जिले की तो बोगो सिंह का जनता को समर्थन नहीं प्राप्त हुआ और इस बार वह चुनाव हार गए। सूर्यगढ़ सीट से राजद के बाहुबली उम्मीदवार सुरेंद्र प्रसाद यादव और प्रहलाद यादव ने जीत दर्ज की है ऐसे में दुष्कर्म कांड में आरोपी एवं चर्चित राजबल्लभ यादव की पत्नी विभा देवी ने नवादा से जीत हासिल की है और आखिर में बात करें खगड़िया जिले की तो वहां से बाहुबली पूर्व विधायक रणवीर यादव की पत्नी पूनम देवी ने जीत हासिल की है जो जेडीयू के अंतर्गत टिकट प्राप्त की थी।

You cannot copy content of this page