बिहार के पूर्व सीएम मांझी का सीएम नीतीश के फैसले पर बिगड़े बोल – कहा सुशासन में अमीर शराब पी रहे हैं, और गरीब जेल ..

Jitanram Manjhi

न्यूज डेस्क : बिहार की सत्ता में भागीदार हम पार्टी के सुप्रीमो इनदिनों लगातार बयानबाजी से सुर्खियों में बने रहते हैं। हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष व बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी मीडिया हो या सोशल मीडिया पर कभी NDA की तारीफ करते हैं तो कभी विरोध करने से भी पीछे नहीं हटते है। हाल में मांझी जब दिल्ली गये हैं तो उनका मिजाज फिर बदल गया है। एक बार फिर मांझी ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर शराबबंदी कानून के खिलाफ बयानी वार किया है। जीतन राम मांझी एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा की बिहार में शराबबंदी कानून का कोई मतलब ही नहीं है। खासकर ,इस कानून के शिकार गरीब लोग हो रहे हैं। अागे उन्होंने कहा शराबबंदी के नाम पर काफी पैसा खर्चा हो रहा है। जहरीली शऱाब पीकर लोग मर रहे हैं। इस कानून की समीक्षा करने की जरूरत है।

गरीब मर रहे हैं, आमिर मौज काट रहे हैं उन्होंने बताया बिहार में शराबबंदी के नाम पर जितने लोग जेल में बंद हैं उनमें 75 प्रतिशत गरीब लोग हैं। जो गरीब जेल में बंद हैं उनका परिवार-बच्चे खाने के बिना बिलख रहे हैं। गरीबों के बारे में कहा जा रहा है कि वे शराब पी रहे हैं। लेकिन, अमीर लोग खूब शराब पी रहे हैं। उन्हें तो नीतीश सरकार कुछ नहीं कर रही है।

फिर तारीफ भी किया मांझी नीतीश कुमार का विरोध करते करते हैं फिर तारीफ भी करने लगे। मांझी ने कहा कि नीतीश कुमार में देश को चलाने की क्षमता है। लेकिन, फिलहाल NDA में प्रधानमंत्री पद के लिए कोई वेकैंसी नहीं है। मांझी ने कहा कि उनकी पार्टी एनडीए में मजबूती के साथ है औऱ रहेगी। बिहार में एनडीए पूरी तरह से एकजुट है। जीतन राम मांझी ने कहा कि तेजस्वी तीन महीने में सरकार गिर जाने की भविष्यवाणी कर रहे हैं। हालत तो ये है कि वे जब अपने ही विधानसभा क्षेत्र में गये तो लोगों ने उन्हें काला झंडा दिखा दिया।

You cannot copy content of this page