Bihar Startup Policy 2022 : बिना ब्‍याज मिलेगा 10 लाख तक लोन, शाहनवाज हुसैन ने कही ये बात, यहां से करें आवेदन

Bihar Startup Policy 2022

Bihar Startup Policy 2022 : बिहार सरकार युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए कई प्रयास कर रही है। इसके लिए सरकार युवा उद्यमियों को बिना ब्याज के 10 लाख रुपए देगी। यह 10 साल के लिए दिए जाएंगे।

यह राशि बिहार स्टार्टअप पॉलिसी 2022 के अंतर्गत सीड फंड के तौर पर दी जानी है। आवश्यकतानुसार युवाओं को मार्गदर्शन ट्रेनिंग और मार्केटिंग में भी सहायता प्रदान की जाएगी। बीते शुक्रवार को बिहार स्टार्टअप पॉलिसी 2020 Bihar Startup Policy 2022, शाहनवाज हुसैन के द्वारा लांच किया गया। इसके अलावा स्टार्टअप के तहत प्रोत्साहन योजना का फायदा देने के लिए स्टार्टअप पोर्टल भी चालू किया गया।

इस योजना के तहत स्टार्टअप करने वाले युवाओं को 10 लाख रुपए का सीडफंड दिया जाएगा। जिसके लिए 10 साल तक एक रुपया भी ब्याज नहीं देना होगा। वहीं अगर कोई स्टार्टअप कंपनी एक्सीलरेशन प्रोग्राम में भाग लेती है तो उक्त कंपनी को 3 लाख रुपए तक अऩुदान दिया जाएगा। एंजेल इन्वेस्टर्स से निवेश मिलने पर निवेश को 2% सफलता राशि देने का प्रावधान है। एंजेल निवेशकों से कोष प्राप्त करने के बाद भी उसे अतिरिक्त कोष दिया जाएगा।

एसटी एससी और महिलाओं को विशेष लाभ : इस योजना के तहत महिला उद्यमी को विशेष लाभ प्रदान किया जाएगा। महिलाओं को सीड फंड के तौर पर 5% वहीं एससी एसटी और दिव्यांग जनों को 15 फ़ीसदी से ज्यादा फंड दी जाएगी। इसे ऐसे समझे, किसी महिला उद्यमों के स्टार्टअप को 10 लाख 50 हजार और एससी एसटी और दिव्यांगों को 11 लाख 50 हजार रुपए दिए जाएंगे। वहीं इंक्यूवेशन सेंटर्स की ओर से स्टार्टअप्स को दो लाख रुपए तक का प्रति स्टार्टअप दिए जाएंगे।

ये भी पढ़ें   बिहार में मिलेगी बेरोजगारी से आजादी! … अब 10 नहीं, 20 लाख नौकरियां देगी नीतीश सरकार

को-वर्किंग स्पेस का होगा निर्माण : उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने कहा कि राज्य में स्टार्टअप की हिस्सेदारी को बढ़ावा देने के लिए वर्किंग स्पेस की सुविधा भी दिए जाएंगे। को-वर्किंग स्पेस, स्टार्टअप बिजनेस सेंटर के नाम से मौर्यलोक कंपलेक्स के 5वें तले और बीएसएफसी भवन में बनाया जा रहा है।