लॉकडाउन के मुद्दे पर बिहार सरकार को पटना हाई कोर्ट की फटकार , कहा – राज्य में स्थिति टोटल फेल्योर

Patna High Court

न्यूज डेस्क : पटना हाईकोर्ट ने सोमवार को सुनवाई के दौरान बिहार सरकार को फटकार लगाई है। बिहार में कोरोना संक्रमण के कारण बिगड़ते हालात को लेकर पटना हाई कोर्ट में आज हो रही सुनवाई के दौरान राज्य सरकार की कार्यशैली पर कोर्ट ने कड़ी नाराजगी जताई है। राज्य के वर्तमान हालात पर पटना हाईकोर्ट ने मौखिक रूप से कहा है कि कोरोना जैसी महामारी के बीच सरकार का टोटल फेल्योर सामने आ रहा है। हाईकोर्ट ने कोरोना वायरस के मामले में सरकार की नाकामी पर खूब फटकार लगाई है।

बिहार में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर हाईकोर्ट सरकार पर तल्ख होते हुए दिख रही है सोमवार को हुई सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने कहा कि बिहार सरकार से पूछा गया था कि अगर सरकार से व्यवस्था संभल नहीं रहा है तो लॉकडाउन क्यों नहीं लगा दिया जा रहा है ? सरकार से तैयारियों के बारे में जो जवाब मांगा गया था उसको लेकर सरकार के तरफ से गोलमोल जवाब आ रहा है। स्थिति ऐसी है कि सरकार को जवाब देने में भी नहीं बन रहा है । जिसको लेकर सुनवाई 4 मई तक के लिए टाल दी गई कोर्ट ने कहा कि कहीं ऐसा ना हो कि बिहार में लॉक डाउन लगाने की घोषणा भी कोर्ट को करनी पड़े ।

बताते चलें कि बिहार में कोरोना को लेकर बिगड़े हालात पर हाई कोर्ट बीते दिनों से बिहार सरकार पर सख्त होता दिख रहा है। सरकार से बिहार में लॉक डाउन लगाए जाने की स्थिति पर सुनवाई हो रही थी। पटना उच्च न्यायालय के जस्टिस चक्रधारी शरण सिंह और जस्टिस मोहित कुमार साह की खंडपीठ ने सुनवाई करते हुए मौखिक रूप कहा कि यह टोटल फेल्योर की स्थिति है। राज्य के अंदर संक्रमण बेकाबू है और सरकार सही तरीके से जवाब नहीं दे पा रही ।हाई कोर्ट की फटकार लगने के बाद राज्य के महाधिवक्ता ने तुरंत कहा कि वह सरकार के प्रमुख लोगों से संपर्क करने का प्रयास कर रहे हैं। हाईकोर्ट की नाराजगी से सरकार में हड़कंप मच गया है। हालांकि खबर लिखे जाने तक अब तक कोर्ट में इस मामले में कोई आदेश नहीं दिया है।

You may have missed

You cannot copy content of this page