पप्पू यादव : भाजपा और राजद की साठ गाँठ से हारेंगे नितीश कुमार

pappu yadav

pappu yadav

डेस्क : इस बार बिहार के चुनावों में अनेको नए और पुराने चेहरे देखने को मिले हैं। यह सभी चेहरे अपनी किस्मत आजमाने बिहार इलेक्शन में कूद पड़े हैं। कुछ नेताओं का बोल बाला है तो कुछ नेताओं का बिहार को एक अलग रूप देने का मुद्दा है। बिहार जाप पार्टी की ओर से पप्पू यादव भी उनमें से एक हैं जिन्होंने इस बार 150 से भी ज्यादा सीटों पर दावेदारी ठोकी है। बिहार में इनके प्रशंसकों की कोई कमी नहीं हैं। पर ऐसे में वह विवादित बयान देते नजर आ रहे है। मीडिया कर्मियों से बातचीत के दौरान वह कह रहे हैं की भाजपा ने राजद की जांच पर रोक लगाईं है और भाजपा – राजद की अब सांठ- गांठ हो गई है। भाजपा खुलकर राजद का साथ देती नजर आ रही है। बल्कि भाजपा तो जदयू नितीश कुमार को भी रास्ते से साफ़ करना चाहती है।

ऐसे में आखिरी चुनाव के प्रचार प्रसार रुकने से पहले ही नितीश कुमार का यह कहना की यह मेरा आखिरी चुनाव है वह भी एक झूठ है जिससे वह जनता को बरगलाने के अलावा कुछ नहीं कर रहे हैं। वह इस बार चुनाव में काफी थके और हारे हुए नजर आ रहे हैं। नितीश कुमार दूसरों की कृपा से सीएम बने हैं। पप्पू यादव का कहना है की पहले तो डीएनए का पक्ष रख कर वोट मांगे थे पर अब वह यह कहकर वोट मांग रहे है की यह मेरा आखिरी इलेक्शन है अंत भला तो सब भला। अगर वह संन्यास ले ले तो ज्यादा बेहतर होगा।

आपको बता दें की आज बिहार में 78 सीटों पर वोटिंग होने है और ऐसे में प्लूरल्स पार्टी की अध्यक्ष पुष्पम प्रिय चौधरी भी अपना मत डालती नजर आई साथ ही लोगो से अपील की कि वह भी अपना वोट डाले और लोकतंत्र की प्रक्रिया का हिस्सा बनें। इससे पहले भी पीएम मोदी के ट्वीट ने पूरी बिहार की जनता से यह आग्रह किआ की वह अपना वोट ड़ालकर इस बार रिकॉर्ड कायम करके दिखाएं। अब परिणाम क्या निकलते है यह तो 10 नवम्बर की गिनती के बाद ही पता चलेगा की इस बार बिहार का शासन कौन संभालेगा आगे आने वाले 5 साल के लिए सबको है।

You cannot copy content of this page