कठिन परिश्रम व लगन से पहली बार में ही किया दरोगा की परीक्षा पास

Bihar SI

न्यूज डेस्क : बिहार दरोगा परीक्षा का फाइनल रिजल्ट के प्रकाशन होते ही जिले में खुशी की लहर छाई हुई है। इस बार बेगूसराय कई युवक युवतियों ने इस परीक्षा में परचम लहराया। गुरूवार को बिहार दरोगा का मेरिट लिस्ट जारी किया गया। जिसमें दरोगा के पद के लिए लिखित परीक्षा के बाद शारीरिक परीक्षा में पास हुए विद्याथियों का परिणाम जारी किया गया। बेगूसराय के नावकोठी प्रखण्ड क्षेत्र के छतौना गाव के एक युवा ने भी बाजी मारी है।

उक्त युवक छतौना निवासी अशोक कुमार का पुत्र कृष्ण-कन्हैया है । बताते चले कि युवा की मां छतौना मिडिल स्कूल में शिक्षिका है। वो अपने चार भाई – बहन में सबसे छोटा है । इस गाव में सबसे कम उम्र में दरोगा की परीक्षा पास करने वाला यह पहला युवा है । युवक ने मैट्रिक 2013 ई में अयोध्या प्रसाद सिंह उच्च विद्यालय नावकोठी से की। वहीं इंटर की ढूना सिंह महाविद्यालय पहसारा से 2015 ई में पास किया , ग्रेजुएशन की पढ़ाई आरसीएस कॉलेज मंझौल से 2018 में पूर्ण की । युवक पटना में रहकर दोरोगा की तैयारी कर रहा था।

ग्रमीणों ने बताया कि कन्हैया बहुत ही कुशाग्र बुद्धि का लड़का है, यह पढ़ाई के अलावा क्रिकेट व अन्य खेलों में भी बढ़चढ़कर हिस्सा लेता है। जिस जिस में लग जाता है उसी में यह सफलता प्राप्त करता है । परिणाम आने के बाद गाव में ख़ुशी का महौल फैल गया । सगे संबंधियों व मित्रो की फ़ोन कॉल व मैसेज के जरिये बधाई दिए जा रहे हैं।

You cannot copy content of this page