जल-जीवन- हरियाली अभियान के द्वारा संचालित योजना की धीमी प्रगति पर बिफरे DM

DM BEGUSARAI

न्यूज डेस्क : जिले के कारगिल विजय सभा भवन में आज गुरुवार को जिला अधिकारी अरविंद कुमार वर्मा के नेतृत्व में जिला कृषि टास्क फोर्स की बैठक आहूत की गई। बैठक के दौरान जिला पदाधिकारी ने जिला कृषि पदाधिकारी एवं सभी प्रखंड कृषि पदाधिकारियों को कृषि विभाग के अंतर्गत संचालित सभी योजनाओं एवं कार्यक्रमों की नियमित समीक्षा करने तथा लंबित कार्यों का ससमय निष्पादन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने विशेष तौर पर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, जल जीवन हरियाली अभियान अंतर्गत जल संरचना ईकाई के निर्माण, जैविक कॉरिडोर योजना से संबंधित लंबित मामलों में प्रगति लाने हेतु आवश्यक समन्वय स्थापित करने का निर्देश दिया।

बता दें कि जिलाधिकारी ने खरीफ फसल में प्रखंडवार फसल आच्छादन संबंधी प्रतिवेदन की समीक्षा के क्रम में धान रोपनी के निर्धारित लक्ष्य 8000 हेक्टेयर रोपनी के विरुद्ध 13477.10 हेक्टेयर रोपनी हो जाने के संबंध में जानकारी प्राप्त की तथा सभी प्रखंड कृषि पदाधिकारियों को पुनः अपने आंकड़ों का सत्यापन करने का निर्देश दिया। इसी प्रकार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन एवं मुख्यमंत्री तीव्र बीज विस्तार योजना के तहत भौतिक एवं वित्तीय लक्ष्यों से संबंधित लंबित कार्यों को पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। जल-जीवन- हरियाली अभियान अंतर्गत कृषि विभाग द्वारा क्रियान्वित जल संरचना ईकाइयों के निर्माण की धीमी प्रगति पर जिला पदाधिकारी द्वारा असंतोष जाहिर किया गया तथा निर्धारित लक्ष्य 234 के विरुद्ध अब तक निर्गत मात्र 139 स्वीकृत पत्र में भी प्रगति लाने का निर्देश दिया गया।

जैविक कॉरिडोर योजना के तहत निर्धारित 1663.10 एकड़ रकबा में से वर्तमान में मात्र 764 एकड़ रकबा के आच्छादन होने पर भी उन्होंने खेद प्रकट किया तथा निर्धारित लक्ष्य को पूर्ण करने हेतु आवश्यक प्रयास का निर्देश दिया गया। इस दौरान उन्होंने जैविक कॉरिडोर योजना अंतर्गत गठित 27 समूहों को पूर्णरूपेण एक्टिव करने का भी निर्देश दिया।

You may have missed

You cannot copy content of this page