बरौनी डेयरी से डयूटी कर घर लौट रहे प्रयोगशाला परिचारक एवं एक पशु की करेंट लगने से जान , लोग उग्र

Electricity

न्यूज डेस्क : बेगूसराय के गढ़हरा सहायक थाना क्षेत्र के राजबाड़ा में मंगलवार की सुबह विद्युत प्रवाहित जर्जर तार की चपेट में आने से साइकिल सवार बरौनी डेयरी से डयूटी कर कील गढ़हरा अपने घर जा रहे लैब अटैंडेंट की मौत घटना स्थल पर ही हो गयी।वहीं उक्त स्थल पर करेंट लगने से एक पशु की भी मौत हो गई। मृत व्यक्ति की पहचान बीहट नगर परिषद क्षेत्र के स्वर्गीय बद्री ठाकुर के क़रीब 55 वर्षीय पुत्र अमरेश ठाकुर के रूप में हुई। ग्रामीणों ने विद्युत विभाग की लापरवाही से युवक की जान जाने का आरोप लगाते हुए शव को सड़क पर रख 5 घंटे से अधिक समय के लिए बरौनी जीरोमाइल मुख्य सड़क को जाम रखा।

मृतक अमरेश ठाकुर देशरत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद दुग्ध उतपादक सहकारी संघ बरौनी डेयरी में प्रयोगशाला परिचर के पद पर वर्षों से कार्ययरत था। सोमवार को वह रात्रि शिफ्ट की ड्यूटी कर मंगलवार की अहले सुबह अपने घर के लिये निकला था। बिजली विभाग की घोर लापरवाही के कारण अमरेंद्र की मौत विद्युत प्रवाहित तार की चपेट में आने के दौरान हो गयी। राहगीरों ने घटना की जानकारी स्थानीय थाना पुलिस को दी। घटना की सूचना मिलते ही मृतक के परिजनों व ग्रामीणों की भीड़ घटनास्थल की ओर बढ़ने लगा और देखते ही देखते मामला तूल पकड़ लिया। सैकड़ों की संख्या में उपस्थित ग्रामीणों ने इससे आहत होकर विद्युत कॉर्पोरेशन की लापरवाही के खिलाफ पुरजोर विरोध जताते हुए उचित मुवाज़े की मांग सहित विद्युत विभाग के सक्षम पदाधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की माँग पर अड़े रहे।

ग्रामीणों ने विद्युत विभाग पर आरोप लगाते हुए कहा कि आवदेन के माध्यम सालों से तार को दुरूस्त करने की मांग स्थानीय कई लोगों द्वारा लिखित गुहार लगायी गयी है। लेकिन इसके बाबजूद भी संबंधित पदाधिकारी का इस ओर ध्यान केंद्रित अब तक नहीं हो पाया है। यदि तार को पूर्व से दुरुस्त कर दिया गया होता तो इस प्रकार की अप्रिय घटना का शिकार युवक नहीं होता।अंततः विभागीय लापरवाही का खामियाजा स्थानीय लोगों को उठाना पड़ा। इधर मृतक के चचेरे भाई जितेंद्र ने बताया कि परिवार की आर्थिक स्थिति काफी दयनीय है।मृतक के तीन पुत्र एक पुत्री है।असमय निधन हो जाने से परिजनों पर दुख का पहाड़ टूट पड़ा है।

वहीं घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय विधायक रामरतन सिंह, बरौनी बीडीओ वीरेंद्र कुमार, विद्युत विभाग के एसडीओ, बरौनी थाना इंस्पेक्टर सुरेंद्र कुमार, ओपी अध्यक्ष गढ़हरा प्रतोष कुमार, एएसआई कामेश्वर प्रसाद सहित आदि लोगों ने आक्रोशित लोगों को काफी समझाने बुझाने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिये सदर अस्पताल बेगूसराय भेजा। इधर पोस्टमार्टम के बाद शव के गाँव पहुँचते ही परिजन के करुण कन्द्रन से सम्पूर्ण कील गढ़हरा क्षेत्र गमगीन हो गया। इस संबंध में ओपी अध्यक्ष गढ़हरा ने बताया कि मृतक के परिवार की ओर से समाचार प्रेषण तक लिखित आवेदन नहीं दिया गया है। आवेदन मिलने के उपरांत प्राथमिकी दर्ज कर ली जायेगी। वहीं विद्युत विभाग के एसडीओ विष्णुकांत पंडित ने बताया कि कागजी दस्तावेज की प्रक्रिया जारी है।विभाग की ओर से चार लाख रुपये की राशि मृतक के परिजनों को निर्गत कर दी जायेगी।

You cannot copy content of this page