रात भर फोन चार्ज में लगाकर सोने पर आपको देने पड़ सकते है 12000 rs

डेस्क : अगर आप भी रात भर फोन को चार्ज में लगाते हैं, टीवी रिमोट से बंद करते है और स्टैंडबाय मोड पर रखते है। तो आप हर साल 12000 रुपये खर्च कर रहे हैं। मीटर में लगे एक छोटी सी एलईडी लाइट से बिजली विभाग को करोड़ों को फायदा होता है। उसी तरह से हर साल आप के भी रुपए जा रहे हैं।

British Gas जो यूनाइटेड किंगडम की एक प्रमुख एनर्जी कंपनी है, उसकी सहयोगी सेंट्रिका ने इसपर रिसर्च की है। रिसर्च के मुताबिक, स्टैंडबाय मोड में रहते हुए कई प्रोडक्टस जो थोड़ी-थोड़ी एनर्जी चूसते हैं। उसका सालभर का बिल करीब 11971 रुपये होता है। कंपनी ने इन डिवाइस का नाम ही वैंपायर डिवाइस रख दिया है।

आप अक्सर टीवी को रिमोट से बंद करके सो जाते हैं उसे स्वीच से बंद नहीं करते हैं। टीवी ऑन रहने पर हरे रंग की बत्ती जलती है। रिमोट से बद करने के बाद लाल रंग की बत्ती जलती रहती है। इसी को स्टैंडबाय मोड कहते हैं। ऐसा अकेले टीवी के साथ नहीं बल्कि वाई-फाई राउटर से लेकर माइक्रोवेव और दूसरे कई डिवाइस के साथ होता है। वह लाल बत्ती भी बिजली की खपत करती है।

रिसर्च में घर और ऑफिस में इस्तेमाल होने वाले 13 डिवाइस है, रिसर्च में जो टॉप फाइव में डिवाइस हैं, उनमें वाई-फाई राउटर, एलईडी टीवी, डिश टीवी का सेट टॉप बॉक्स, माइक्रोवेव और गेमिंग कंसोल है। इसके अलावा मोबाइल, लैपटॉप, स्मार्ट स्पीकर्स से लेकर ऑटोमेशन डिवाइस तो है ही।

डाले ये आदतें

टीवी को उपयोग के बाद स्वीच से बंद करें।
रात में सोते वक्त सारे स्वीच को बंद करे
नया डिवाइस खरीदते वक्त एनर्जी रेटिंग देखें।
गेमिंग कंसोल, टीवी, लैपटॉप, डिश टीवी को एक एक्सटेंशन से जोड़ें, ताकि सब एक बार में बंद हो जाए। एनर्जी बचाने वाले बल्ब लगाएं।
बच्चों में भी switch बंद करने की आदत डालें।

ये भी पढ़ें   बेगूसराय के जयमंगलागढ़ एवं सिमरिया गंगा घाट का जल्द होगा विकास..सांसद सह मंत्री गिरिराज सिंह ने पर्यटन मंत्री को पत्र