4 February 2023

अपनी पुरानी साइकिल को मामूली खर्च मे बनाएं Electric, मिलेंगी 20km की दमदार रेंज..

cycle

डेस्क : भारतीय बाजार में इलेक्ट्रिक व्हिएकल के बाद इलेक्ट्रिक साइकिल की भी डिमांड तेजी से बढ़ रही है। इसमें कई जानी-मानी कंपनियों के साथ कई स्टार्टअप वगैरा भी शामिल हो गए हैं। हालांकि, ये कंपनियां E साइकिल की कॉस्ट को कम करने में अभी कामयाब नहीं हो पाई हैं।

यानी एक अच्छी E-साइकिल जिसकी रेंज करीब 30किमी तक हो, उसके लिए आपको 30 हजार रुपए के आसपास तक खर्च करने होते हैं। जबकि बाजार में 40 से 45 हजार रुपए में एक इलेक्ट्रिक स्कूटर आ जाता है। ऐसे में अगर आपके पास कोई पुरानी साइकिल है तब आप उसे घर पर ही इलेक्ट्रिक साईकल में कन्वर्ट कर सकते हैं। इस काम में कम से कम 10 से 15 हजार का खर्च आएगा। तो चलिए आज आपको इसी के बारे में कुछ बताते हैं।

इलेक्ट्रिक E साइकिल के लिए इन कम्पोनेंट्स की जरूरत होगी : इस काम के लिए आपको एक कोई भी पुरानी साइकिल की जरूरत होगी। आपके पास साइकिल नहीं है तब पुरानी साइकिल 1000 से 2000 रुपए में खरीद भी सकते हैं। साइकिल के साथ BLDC मोटर, लिथियम बैटरी, चार्जर, कंट्रोलर और इंस्टालेशन किट की भी जरूरत होगी। E-साइकिल में ब्रशलैस मोटर (BLDC Motor) नई टेक्नोलॉडी की मोटर भी लगाई जाती है, जो 250 वाट से 800 वाट तक की मिल जाती है। मोटर 24वोल्ट और 36वोल्ट दोनों वोल्टेज रेंज में आती हैं। इलेक्ट्रिक साइकिल बनाने के लिए 250W / 36V लगाना ही सही होगा। मोटर की कम से कम स्पीड 328 RPM तक होती है। वहीं, इसकी कीमत करीब 6500 रुपए तक होती है।

E-साइकिल के लिए बैटरी का सिलेक्शन : इलेक्ट्रिक साइकिल में ऐसी बैटरी का इस्तेमाल भी किया जाता है जिसका वजन कम हो। उससे लंबी दूरी भी आसानी से तय की जा सके। इसके लिए नई टेक्नोलॉजी वाली लिथियम बैटरी भी लगाई जाती है। यह बैटरी बेहद हल्की होती है, साथ ही 2-3 घंटे में चार्ज भी होती है। जब मोटर 36 वोल्ट की होती, तो लिथियम बैटरी भी 36 वोल्ट की होनी चाहिए। बैटरी का सिलेक्शन साइकिल के इंस्टालेशन एरिया के हिसाब से ही किया जाता है। E-साइकिल के लिए 6Ah / 36V लिथियम बैटरी की भी जरूरत होती है।