28 January 2023

क्‍या आप मिलावटी पेट्रोल से परेशान हैं? घबराइए नहीं.. चुटकियों में ऐसे करें शुद्धता की पहचान..

Petrol in car

डेस्क : बढ़ती महंगाई के कारण लोग बेहाल हैं, तो इस बीच पेट्रोल में मिलावट के भी कई मामले सामने आने से हड़कंप मचा हुआ है. दरअसल कहीं पेट्रोल में पानी, तो कहीं केरोसिन का तेल मिलाकर बेचने के मामले भी सामने आ रहे हैं. ऐसे में ज्यादा कीमत चुकाने के बावजूद लोगों को शुद्ध पेट्रोल नहीं मिल पा रहा है. वहीं, मिलावटी पेट्रोल का चलने वाले वाहनों पर भी बुरा असर पड़ रहा है. ऐसे में सवाल यह उठता है कि आखिरकार एक आम आदमी कैसे मिलावटी पेट्रोल के इस जाल से बाहर निकले.

बिहार के बेतिया के पवार हाउस रोड स्थित सत नारायण पेट्रोल पंप के प्रबंधक ललन झा बताते हैं कि पेट्रोल की शुद्धता की जांच करने के कुल 2 तरीके होते हैं. पहला फिल्टर पेपर और दूसरा उसकी डेंसिटी की माप. उन्‍होंने यह बताया कि बाजार में बड़ी आसानी से मिलने वाले फिल्टर पेपर पर पेट्रोल की एक बूंद डालने पर अगर कोई भी निशान नहीं बनता है और पेपर के रंग में कोई भी परिवर्तन नहीं होता है, तो इसका अर्थ यह हुआ कि पेट्रोल मिलावट फ्री है.

फिल्टर पेपर न होने पर महज 1 रुपए में ऐसे करें जांच : बेतिया के पेट्रोल पंप प्रबंधक ललन झा ने बताया कि अगर आपके पास फिल्टर पेपर की सुविधा उपलब्ध नहीं है तो ऐसी स्थिति में आप फोटो कॉपी करने वाले A4 पेपर की मदद से भी फिल्टर पेपर वाली प्रक्रिया को अपनाकर पेट्रोल की शुद्धता की जांच कर आसानी से सकते हैं. यह पेपर आपको बाजार में 1 रुपए में आसानी से मिल जाएगा. इस A4 पेपर पर तेल की कुछ बूंद गिराने पर अगर धब्बा बन जाता है, तो पेट्रोल में मिलावट है. अगर फिल्टर पेपर की तरह ही A4 पेपर भी धब्बा नही बनता है, तो फिर पेट्रोल शुद्ध है. इस तरह आपको पेट्रोल की शुद्धता की 90 फ़ीसदी तक सही जानकारी घर बैठे ही मिल जाएगी.

पेट्रोल के घनत्व को मापकर भी कर सकते हैं उसकी जांच : हेड्रोमीटर, विशेष थर्मामीटर और कुछ अन्य उपकरणों के जरिये ही पेट्रोल के घनत्व को माप कर उसकी शुद्धता की जांच भी की जाती है. हालांकि इस विधि द्वारा पेट्रोल की शुद्धता जांचने की सुविधा केवल प्रयोगशालाओं या फिर पेट्रोल पंप पर ही उपलब्ध होती है.