कम उम्र में IAS बनकर भी नहीं मानी हार, प्रतिष्ठित नौकरी छोड़ खड़ी की 14 हज़ार करोड़ की कंपनी – जानें कौन हैं रोमन सैनी

Roman Saini

डेस्क : अपनी जिंदगी में हर व्यक्ति कामयाब होना चाहता है। आज हम एक ऐसी शख्सियत के बारे में बताने वाले हैं जिन्होंने अपनी सिविल सर्विसेज की नौकरी छोड़ कर दुनिया की मदद करने की ठानी। इस शख्स ने अपनी मंजिल पाने के लिए अथक प्रयास किया, लेकिन आखिरी वक्त में उन्हें समझ आया कि उन्हें नौकरी के बजाय लोगों की मदद करना ज्यादा अच्छा लगता है, जिसके चलते उन्होंने 14000 करोड़ रुपए की कंपनी खड़ी कर दी। आज हम और आप इस कंपनी को अनकडेमी के नाम से जानते हैं। यह एक ऑनलाइन प्लेटफार्म है जो बच्चों को कम पैसों में आईएएस और आईपीएस अधिकारी बनाने की जिम्मेदारी लेता है।

इस शख्स का नाम रोमन सैनी है। रोमन सैनी राजस्थान से हैं। मात्र 16 साल की उम्र में उन्होंने एम्स का एग्जाम क्लियर किया था, इसके बाद उन्होंने देश के सबसे प्रतिष्ठित कॉलेज AIIMS से पढाई की। मात्र 18 साल की उम्र में उन्होंने अपने रिसर्च पेपर लिख डाले थे, इसके बाद उन्होंने एमबीबीएस की डिग्री हासिल की। धीरे-धीरे उनका मन आईएएस अधिकारी बनने की तरफ चला गया, ऐसे में उन्होंने मात्र 6 महीने में अपने डॉक्टरी की पढ़ाई छोड़ दी और आईएएस की तैयारी करने लगे। जब रोमन सैनी से पूछा गया कि उन्होंने डॉक्टरी की पढ़ाई क्यों छोड़ दी तो उन्होंने बताया की मैं एक ऐसी जगह काम कर रहा था जहां पर चिकित्सक सेवाओं का अभाव था। मैंने सोचा कि लोगों की मदद करने के लिए सबसे अच्छा प्लेटफार्म एक आईएएस अधिकारी बनना है।

इसके बाद उन्होंने आईएएस की तैयारी कर अपने पहले प्रयास में सिविल सेवा परीक्षा पास कर ली। इस नौकरी में उनका मन नहीं लगा और उन्होंने रिजाइन दे दिया। रोमन सैनी ने अपने दोस्त गौरव मुंजाल के साथ अनअकैडमी नाम की वेबसाइट तैयार की। उन्होंने एक Unacademy नाम से ऐसा ऑनलाइन प्लेटफॉर्म बनाया जिस पर आईएएस की तैयारी करने वाले अनेको उम्मीदवार फ्री में पढ़ाई कर सकते थे। Unacademy ने सफलता इसलिए हासिल की क्यूंकि जिस वक्त देश में कई कोचिंग संस्थान लाखों रुपए ले रहे थे, वहीं Unacademy वाले फ्री में तैयारी करवा रहे थे।

रोमन सैनी ने अपने दोस्त गौरव मुंजाल और संस्थापक महेश सिंह की मदद लेकर 2010 में एक यूट्यूब चैनल बनाया था। इस यूट्यूब चैनल पर 18000 शिक्षक आ गए थे। ऐसे में आज अनअकैडमी देश के सबसे बड़े प्रौद्योगिकी प्लेटफॉर्म्स में से एक है। फिलहाल, अनअकैडमी की कीमत 14,830 करोड़ रुपए है। इस प्लेटफार्म पर हमेशा करोड़ों की संख्या में एक्टिव यूजर्स रहते हैं।

रोमन सैनी का आम जनता और विद्यार्थियों के लिए सुझाव है की जब कोई इंसान पैदा होता है तो वह जीनियस नहीं होता। उसको अपनी सक्सेस हासिल करने के लिए ज्ञान, प्रतिभा और चरित्र बदलना पड़ता है। व्यक्ति अपने निर्धारित लक्ष्य तक तभी पहुंच सकता है जब तक वह ज्ञान हासिल करता है। उन्होंने आगे कहा कि मुझे अपने माता-पिता की इच्छा के खिलाफ जाने से डर लगता था लेकिन जब मैंने ऐसा किया तो सफलता मेरे क़दमों में आ गिरी, हमें अपनी कमियों को पहचानना चाहिए और उनके खिलाफ लड़ना चाहिए।

You may have missed

You cannot copy content of this page