70 साल बूढ़ी महिला की ऊपर वाले ने भर दी सूनी गोद, ब्याह के 50 साल बाद गूंजी आँगन में किलकारियां – डॉक्टर बोले अजूबा

Angan mein goonji kilkaariyan

डेस्क : हर औरत को माँ बनने के बाद एक अच्छा सा एहसास होता है, बता दें कि जब वह माँ बनती है तो इज्जत के साथ साथ उसके कंधों पर अब एक नन्ही सी जान की जिम्मेदारी आ जाती है। ऐसे में वह अपना सब कुछ त्याग करके उस छोटे बच्चे के लिए अपने जीवन समर्पित कर देती है। माँ बनना कोई आसान चीज नहीं होती है। इसके लिए बहुत सी चीजें गंवानी पड़ती है। बता दें कि कुछ महिलाएं उम्र रहते माँ बन जाती है लेकिन कुछ महिलाएं किन्ही समस्याओं के कारण माँ नहीं बन पाती हैं

यह समस्याएं शारीरिक होती हैं और इस किसी दुसरे का लेना देना नहीं होता। समाज में ऐसा माना जाता है कि जिन औरतों को बच्चा नहीं होता वह ऊपर वाले के आशीर्वाद से अछूती रह जाती हैं। ऐसे में हर महिला अपना बच्चा चाहती है और वह इसको भगवान का आशीर्वाद समझ कर पाती है। इतना ही नहीं वह अपने बच्चे से इतना ज्यादा लगाव करती है कि कोई भी मुश्किल उसके रास्ते में आने नहीं देती और वह सारी परेशानियों से अकेले लड़ने का साहस रखती हैं।

अक्सर ही हम जब मंदिर में औरतों को जाते हुए देखते हैं तो बता दें कि उनमें से 50% से ज्यादा ऐसी महिलाएं होती हैं जो बच्चे की कामना लेकर आती है। कुछ की अरदास पूरी होती है कुछ की खाली छूठ जाती है। आज हम आपको एक ऐसे ही महिला के बारे में बताने वाले हैं जो 70 साल की है। 70 साल की उम्र में उसने नवजात बच्चे को जन्म दिया है जो बेहद ही स्वस्थ है। करीब 50 साल बाद उसके जीवन में खुशियां वापस लौटी हैं।

यह पूरा मामला गुजरात के कच्छ के रायपुर रापर तहसील केमोरा गांव। यहाँ पर एक 70 साल की महिला ने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है। बीते 45 साल से इसके घर में कोई किलकारी नहीं गूंजी थी लेकिन अब घर में रौनक आई है। बुज़ुर्ग महिला संतान बनने के लिए तड़प रही थी। महिला का नाम जीतूबेन रबारी है। महिला का कहना है की बिना बच्चे के उसका जीवन अधूरा था। यह एक टेस्टयूब बेबी है। जिसको पाकर बुजुर्ग जोड़ा काफी खुश है। IVF के माध्यम से बूढी महिला ने बच्चे को जन्म दिया है। डॉक्टरों ने उन्हें सलाह दी की ऐसा ना करो लेकिन बूढ़े दम्पति को माँ बाप बनना था।

You may have missed

You cannot copy content of this page