IPL, अश्लील फिल्में, तलाक यहाँ तक की सलमान विवाद के साथ जुड़ा है राज कुंद्रा का नाम

Raj Kundra IPL

डेस्क : 19 जुलाई 2021 की रात को मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम राज कुंद्रा के घर पहुंच गई और उनको गिरफ्तार कर लिया। इस बात की भनक राज कुंद्रा को नहीं थी कि मुंबई पुलिस उनके घर के पास उनका इंतजार कर रही है। फिलहाल राज कुंद्रा को 23 जुलाई 2021 तक हिरासत में लिया गया है, बता दें कि 19 जुलाई से लेकर अब तक उनसे एक लंबी पूछताछ का दौर चला है। मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच ने उनको अश्लील फिल्में बनाने के मामले में गिरफ्तार किया है। अश्लील फिल्मों को वह अवैध रूप से कई एप्लीकेशन पर डाल चुके थे, जिसके चलते उन्हें अब पुलिस के सवाल-जवाब का सामना करना पड़ रहा है बता दें की राज कुंद्रा का जन्म 9 सितंबर 1975 को लंदन में हुआ था। इससे पहले भी वह कई विवादों में घिर चुके हैं तो चलिए जानते हैं उन सभी विवादों के बारे में एक-एक करके।

राज कुंद्रा और उनकी पहली पत्नी का तलाक बता दें कि राज कुंद्रा की पहले शादी हो चुकी है और अपनी पहली पत्नी से वह तलाक भी ले चुके हैं। उनकी पहली शादी 2003 में हुई थी, वह शादी के 3 साल तक चली थी। बता दें कि कविता का उनकी बहन के पति के साथ अफेयर चल रहा था, ऐसे में राज कुंद्रा की माताजी ने उनको कई बार पकड़ा था जिसके चलते राज कुंद्रा को अपनी पहली पत्नी से तलाक लेना पड़ा।

राज कुंद्रा बिटकॉइन स्कैम से भी जुड़े हैं राज कुंद्रा और कई बॉलीवुड जगत के लोग बिटकॉइन में गहरा निवेश करके उसको प्रमोट कर रहे थे बता दें कि बिटकॉइन फिलहाल भारत में अवैध है, लेकिन इसका प्रमोशन करते पाए जाने पर उचित सजा दी जाती है। ऐसे में बिटकॉइन की कीमत और उसके घोटाले से प्राप्त की गई राशि 2000 करोड़ तक की आंकी गई थी।

राज कुंद्रा ने सलमान पर की थी टिप्पणी साल 2014 में जब राज कुंद्रा से पूछा गया कि वह एक्टिंग नहीं करना चाहते हैं ? तो उन्होंने कहा था कि मेरे को कोई देखना पसंद नहीं करेगा और दूसरी बात मैं एक बिजनेसमैन हूं। फिल्म इंडस्ट्री मुझे अफोर्ड नहीं कर पाएगी। मीडिया कर्मचारियों के आगे कहा ” मैं शर्त लगाता हूं कि इतना तो सलमान खान नहीं कमाते होंगे और ना ही उनकी कमाई मेरे आस-पास है”

राजस्थान रॉयल्स को लेकर विवाद राज कुंद्रा के ऊपर आईपीएल की टीम राजस्थान रॉयल्स पर सट्टा लगाने का आरोप है। इस कार्य के लिए उनको 2 साल तक बैन झेलना पड़ा था। बता दें कि इस मामले की जांच में लोढ़ा समिति ने की थी, जिसके बाद वह दोषी पाए गए थे और उन पर बैन लगा दिया गया था।

You may have missed

You cannot copy content of this page