तेघरा मुख्य पार्षद की निधन से शोक की लहर

Teghra

तेघड़ा ( बेगूसराय) तेघरा नगर परिषद के निवर्तमान मुख्य पार्षद आसमा खातून का निधन मंगलवार की सुबह बेगूसराय की निजी नर्सिंग होम में हो गया। निधन की खबर फैलते ही तेघड़ा नगर परिषद क्षेत्र में शोक की लहर छा गई। जब एंबुलेंस से उनकी पार्थिक शरीर तेघड़ा कांग्रेस कार्यालय के समीप निवास स्थान पर लगाया गया तो उनके आवासीय परिसर में अंतिम दर्शन को लेकर शुभचिंतकों का तांता लगा रहा।

उनके पति पार्षद महबूब आलम उर्फ कारी मुखिया ने बताया कि सांस लेने में दिक्कत होने पर उन्हें बेगूसराय के नर्सिंग होम में भर्ती करवाया गया जहां इलाज के बाद सेहत में सुधार आई। सुबह में एक सुई लगने के बाद स्थिति बिगड़ने लगी और उसी क्रम में उन्होंने अंतिम सांस ली। बताया जाता है कि उन्हें हार्ड का प्रॉब्लम था। उनके अंतिम दर्शन को आए उप मुख्य पार्षद सुरेश रोशन ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्य पार्षद आसमा खातून कीअसामयिक जाना तेघरा नगर परिषद क्षेत्र के लिए बहुत बड़ी क्षति है।

इन्होंने मुख्य पार्षद से पहले नगर परिषद वार्ड संख्या 25 से निर्विरोध वार्ड पार्षद बनी। उससे भी पहले गौरा 5 के मुखिया के रूप में उनकी बेहतर कार्यकाल रहा।अपने जीवन काल में तेघरा नगर परिषद के विकास के लिए पक्ष अथवा विपक्ष में बैठकर अपनी अग्रणी भूमिका निभाती रही उनकी लोकप्रियता हर हमेशा बनी रही। स्थानीय वार्ड के वार्ड पार्षद कन्हैया कुमार ने बताया कि मुख्य पार्षद मृदुभाषी और मिलनसार व्यक्तित्व के धनी इंसान के रूप में प्रचलित थी।अस्वस्थ होने के बावजूद भी नगर प्रशासन एवं वार्ड पार्षदों को हर संभव मदद में रहे।

ये भी पढ़ें   नोनपुर में प्रसव पूर्व एचआईवी जांच शिविर का आयोजन

नगर कार्यपालक पदाधिकारी नवीन कुमार ने शोक जताते हुए कहा कि मुख्य पार्षद के निधन से तेघरा नगर परिषद ने एक तेजतर्रार महिला नेतृत्व को खो दिया। नगर परिषद कर्मियों ने शोक जताने के साथ ही नगर कार्यालय का कार्य स्थगित किया। मौके पर विधायक राम रतन सिंह, पूर्व प्रमुख रामनरेश सिंह, पूर्व प्रमुख गोपाल कुमार सिंह, राजद के जिला अध्यक्ष मोहित यादव, मुखिया संघ के पूर्व प्रखंड अध्यक्ष हेमंत कुमार शर्मा, पूर्व मुख्य पार्षद नसीमा खातून ,भाजपा नेत्री शालिनी देवी, थाना अध्यक्ष संजय कुमार, j e कृष्ण मुरारी, प्रखंड कांग्रेस अध्यक्ष महेंद्र कुमार, भाकपा के अंचल मंत्री परमानंद सिंह, पूर्व प्रधानाध्यापक अनवर आलम, मोहम्मद अजमत उर्फ मुखिया जी, जदयू के अशोक सिंह भाषो, वार्ड पार्षद भूषण सिंह, पूर्व पार्षद सनातन सिंह, कामदेव यादव, सुशील केजरीवाल के अलावे सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित रहे