सुहागिन महिलाओं ने तीज का व्रत रखकर पति की दीर्घायु की कामना की

Teej

तेघरा ( बेगूसराय) तेघड़ा के ग्रामीण एवं नगर परिषद क्षेत्रों में मंगलवार को सुहागिन महिलाओं ने तीज धूमधाम से मनाई। तीज पर महिलाओं के द्वारा मंदिरों व घरों में भगवान शिव – माता पार्वती की पूजा अर्चना की गई। और महिलाओं ने अपने सुहाग की रक्षा के लिए घर में ही भगवान शिव – माता पार्वती की प्रतिमा बनाकर पर्व को हर्षोल्लास के साथ मनाया।वही तीज के दिन सुबह से ही महिलाओं ने स्नान ध्यान कर शुभ मुहूर्त में पूजा अर्चना कर अपने घर परिवार तथा परिजनों की सुख समृद्धि की कामना की।

हिंदू मान्यता के अनुसार भाद्र पद शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरितालिका तीज व्रत रखा जाता है। इस व्रत में महिलाएं निर्जला रहकर पति की लंबी आयु की कामना करती है। अगले दिन व्रत का पारण करने के बाद व्रत पूरा हो जाता है इस दिन पूरे दिन भर भगवान शिव और माता पार्वती के भजन कीर्तन एवं उसका स्मरण करती है। इस दिन व्रती महिलाएं निर्जला रहकर पूजा अर्चना के साथ ही कथा वाचन भी करती है।

यह व्रत को कठिन माना गया है। इस दौरान महिलाओं ने सोलह श्रृंगार की सामग्री माता पार्वती को अर्पण कर अखंड सुहाग की रक्षा की कामना की। साथ ही पूरे विधि विधान के साथ व्रती महिलाओं ने संध्या में चौरचंद का व्रत चंद्रमा के पूजा अर्चना के साथ ही अपने अपने आंगनो में विधि विधान के साथ की।

ये भी पढ़ें   तेघड़ा के नवनियुक्त डीएसपी डॉ रविंद्र मोहन प्रसाद का किया स्वागत