बेगूसराय : तेघड़ा में जन्माष्टमी को लेकर तैयारी जोरों पर..

बेगूसराय : तेघड़ा में जन्माष्टमी को लेकर तैयारी जोरों पर.. 1

अशोक कुमार ठाकुर, तेघरा (बेगूसराय) : पिछले 2 सालों से कोविड-19 के वैश्विक महामारी के चलते सभी सांस्कृतिक और धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजन पर प्रतिबंध लगा हुआ था।जिसके वजह से तेघड़ा के ऐतिहासिक श्री कृष्ण जन्मोत्सव को सीमित दायरे में मनाया गया था। लेकिन इस बार जनजीवन सामान्य होने के बाद धीरे-धीरे सभी पर्व त्यौहार आयोजित किए जाने लगे हें। और इसी करी में जन्माष्टमी की तैयारी भी जोरों से शुरू कर दी गई है।

इस बार अनुमंडलीय बाजार तेघरा से लेकर बरौनी फ्लैग एवं उत्तर तेघड़ा के पकठौल चौक आदि सभी कुल 15 मंडप क्षेत्रों में व्यापक पैमानेपर जन्म महोत्सव पर भव्य तैयारियां मेले की चल रही है। इसके लिए पहले से भी पंडाल को भव्य बनाने की तैयारियां जोरों पर चल रही है। इस बार आधुनिक ढंग से मंडप का निर्माण और मेला क्षेत्र का सजाबट किया जा रहा है। इधर मूर्तिकारों के द्वारा भी राधा कृष्ण सहित अन्य देवी देवताओं की प्रतिमा का निर्माण कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। मेला में आने वाले दर्शकों के मनोरंजन के लिए आकाशी व अन्य तरह का झूला,जादूघर, चिड़ियाखाना,मीना बाजार आदि भी लगाये जा रहे हें ।

वहीं खिलौना, मिठाई की दूकान,श्रृगांर सहित अन्य तरह के दूकानों का आनंद भी लोग ले सकेंगे। इतना ही नहीं लोगों का मनोरंजन का विशेष ख्याल रखते हुए मेला समिति के द्वारा ,कहीं जागरण तो कहीं कौवाली तो कहीं स्टेज शो का प्रोग्राम रखा गया है। इसके लिए भी सभी मेला समितियों के माध्यम से कोविड-19 के गाइडलाइन को पालन करवाना है। विदित हो कि विगत तीन वर्षों से कोरोना महामारी के कारण लोग मेला देखने से वंचित रह गए थे।इस वर्ष लोग मेला का जमकर आनंद ले सकेंगे। तेघड़ा के सभी मंडलों में भगवान श्री कृष्ण का जन्म महोत्सव 19 अगस्त के रात्रि 12 बजे होगी और भगवान को छप्पन भोग लगाए जाएंगे उसके उपरांत श्रद्धालुओं के बीच प्रसाद वितरण होगा।

वही सभी मंडलों में मेला का उद्घाटन 20 अगस्त को अतिथियों के द्वारा संपन्न होगा तब से पांच दिवसीय मेला भव्यता पूर्वक मनाई जाएगी। जिसकी तैयारी मेला समिति एवं प्रशासनिक स्तर के कोआर्डिनेशन के आधार पर मेला की संपूर्ण विधि व्यवस्था एवं सुरक्षा की चाक-चौबंद प्रबंध के अलावे विधिवत मेलाज के संपादन पर दिन-रात की तैयारी चल रही है। पूरे तेघरा बाजार की साज-सज्जा अभी से ही आकर्षक और मनमोहक दृश्य में परिवर्तित होती जा रही है।वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में भी भगवान श्री कृष्ण की जन्माष्टमी धूमधाम से मनाने की तैयारी चल रही है। जन्माष्टमी को लेकर मंदिर एवं राम जानकी ठाकुर बारी सजने लगी है।

मंदिरों की रंग रोगन के अलावा अन्य तरह की साज-सज्जा भी किए जा रहे हें। गौरा एक श्रीसच्चा यज्ञशाला पर हर साल की भांति इस साल भी श्री सच्चा जन्म महोत्सव को श्री कृष्ण जन्मोत्सव के रूप में मनाने की तैयारियां चल रही है यहां के ग्रामीणों एवं सच्चा बाबा के भक्तों के सामूहिक पहल से धार्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ ही कथावाचकों के द्वारा प्रवचन का कार्यक्रम की तैयारी चल रही है। जिसको लेकर श्रद्धालुओं में काफी उत्साह देखा जा रहा है।