सावन की चौथी व अंतिम सोमवारी पर शिव मंदिरों में हर हर महादेव के जय घोष से गूंजता रहा शिवालय

सावन की चौथी व अंतिम सोमवारी पर शिव मंदिरों में हर हर महादेव के जय घोष से गूंजता रहा शिवालय 1

तेघड़ा (बेगूसराय) : शास्त्र के अनुसार सावन महीने को बहुत ही पवित्र माह माना जाता है.इस पवित्र माह में भगवान शिव की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। सुहागन महिलाएं एवं कुमारी कन्या के साथ ही पुरुष भी इस व्रत को रखते हुए शिव की भक्ति में लीन रहते हें जो श्रद्धालु सोमवार को विधि विधान के साथ इस व्रत को रखते हें भोले दानी उनकी मनोकामना पूरा करते हें ।

8 अगस्त सोमवार को सावन माह की चौथी व अंतिम सोमवारी को लेकर प्रखंड क्षेत्र के नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों के विभिन्न वार्डों एवं विभिन्न गांव के शिवालयों में पूजा अर्चना को लेकर श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही । अंतिम सोमवारी होने की वजह से विभिन्न शिव मंदिरों में सुबह से लेकर देर शाम तक श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही जिसमें सर्वाधिक महिला श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा।

इस मौके पर तेघरा प्रखंड के नोनपुर, शिवाला, अंबा, किरतौल, सिंहपुर बिषहर स्थान, गौरा एक भगवती स्थान, गौरा विष्णुपुर शिवाला, बरियारपुर बरौनी 3, फुलवरिया दुलरुआ धाम, मरसैती, दुलारपुर, मघुरापुर समेत विभिन्न गांव के शिव मंदिरों में शिव के उपवासको व शिव भक्तों ने पूजा अर्चना की। इस दौरान हर हर महादेव एवं भोले बाबा की जयकारा से शिवालय गूंजता रहा ।

साथ ही शिवलिंग पर जलाभिषेक भी किया गया । वहीं श्रद्धालुओं ने बेल पत्र ,भांग धतूरा एवं पुष्प अर्पित कर प्रसाद भी चढ़ाया। गौरा एक के पंडित राहुल पाठक ने कहा कि सच्चे मन से शिव की पूजा अर्चना करने से सभी श्रद्धालुओं की मन्नतें पूरी होती है।

ये भी पढ़ें   बिहार को सक्षम और स्वावलंबी बनाने में सहकारिता आवश्यक, मुखिया पंकज सहनी