वर्षो से सड़क पर बह रहा नाला का गंदा पानी,10 हजार की आबादी परेशान

तेघड़ा : तेघड़ा नगर पंचायत अंतर्गत मेन चौक तेघड़ा, भारत गैस एजेंसी के बगल से राम आशीष सिंह आरा मिल होते हुए दंत चिकित्सक डॉ0 श्यान के आगे से वार्ड नंबर 18 पूर्व नगर पंचायत मुख्य पार्षद नसीमा खातून के वार्ड में जाने वाली रास्ता है जो आज नहीं वर्षो से वर्षा के पानी से कई महीनों तक बाढ़ में डूबा रहता है। इस सड़क से मुख्य रूप से लगभग 10,000 से अधिक आबादी प्रभावित होती है, लेकिन इस सड़क को देखने वाला कोई नहीं है। सड़क अपनी व्यवस्था पर बेबस है,सड़क पर जमे हुए पानी से इतनी गंध आती है कि, वहां से होकर गुजरने वाले लोग नर्क की अनुभूति होती है ,लेकिन जितने भी पदाधिकारी तेघड़ा में है या जनप्रतिनिधि हैं सब मुके बनकर बैठे हुए हैं।

इस सबसे बेफिक्र नगर पंचायत पदाधिकारी रमन कुमार अनजान बनकर बैठे हुए हैं ।आम जनता में दबी जुबान में कहना है कि नगर पंचायत पदाधिकारी रमन कुमार तेघडा को नगर पंचायत नहीं नरक पंचायत बनाकर रखें हुए है। जहां कई जगह कचरो का अंबार रहता है ,वहीं दूसरी तरफ जितने भी स्ट्रीट लाइट नगर पंचायत अंतर्गत लगे हुए हैं ,अधिकांश शोभा की वस्तु बनी हुई है ।दिन में तो देखने में नजर आता है कि स्ट्रीट लाइट लगा हुआ है लेकिन रात में पूरा शहर अंधेरे में डूबा रहता है ।पता करने पर मुख्य पार्षद के द्वारा जानकारी दी गई कि स्ट्रीट लाइट लगाने वाली कंपनी के साथ 3 वर्ष का एग्रीमेंट था ,जो खत्म हो गया।

अब उसने फिर से रुपैया लगेगा उसके बाद वह ठीक होगा और इसके लिए अलग से हम लोगों को बैठक करना पड़ेगा। जिसके कारण बाजार में अंधेरा रहता है ।आम जनता सिर्फ टैक्स देने को मजबूर है । कभी भी कोई बड़ी घटना बाजार में हो सकती है हालांकि आजकल दुकानों में चोरी की घटना काफी बढ़ गई है। कई घरों में लूटपाट जैसी घटनाएं हो रही है ,जिसके कारण तेघड़ा नगर पंचायत में रहने वाले लोग विवश होकर अपना जीवन गुजार रहे हैं। इसको देखने वाला कोई भी वरिया पदाधिकारी भी नहीं है।