तेघड़ा में विभिन्न पूजा समितियों द्वारा आयोजित पांच दिवसीय मेले का अतिथियों ने किया उद्घाटन

Teghra

तेघड़ा ( बेगूसराय) शुक्रवार की रात तेघरा नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में श्री कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया । इसके साथ ही 2 साल बाद इस बार बड़ी धूमधाम से यह पर्व मनाने का सिलसिला शुरू हो गई। शुक्रवार अर्ध रात्रि भगवान श्री कृष्ण के जन्म के साथ सभी मेला पंडालों में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के धूम से मेला में उपस्थित श्रद्धालुओं ने जमकर आनंद उठाया। वही अष्टमी के अवसर पर महिलाओं ने प्रसाद ग्रहण कर आस्था के प्रती रखी निर्जला व्रत को समाप्त किया।

तत्पश्चात सभी मेला मंडलों में बृज बिहारी के द्वार श्रद्धालुओं के दर्शनों के लिए लिए खोल दिए गए ।तेघरा के ऐतिहासिक पांच दिवसीय कृष्ण जन्माष्टमी मेला का आयोजन भगवान के जन्म के उपरांत शुरुआत कर दी गई। विभिन्न पूजा समिति के द्वारा आयोजित अलग-अलग मेले मंडपों का उद्घाटन विभिन्न अतिथियों के द्वारा करवाया गया । एनएच 28 उत्तरी क्षेत्र प्रधान मंडप नगर परिषद कार्यालय, निबंधन कार्यालय, हनुमान पूजा समिति, नवीन पूजा समिति त्रिवेणी मार्केट मेला मंडपों का उद्घाटन राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा ने फीता काटकर किया।

इस दौरान बछवारा विधायक सुरेंद्र मेहता, पूर्व डीएसपी सुनील कुमार, भाजपा जिला अध्यक्ष राज किशोर सिंह सहित तमाम अतिथियों ने भगवान के समक्ष माथा टेक कर क्षेत्र के सुख शांति व समृद्धि की कामना की।उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा कि इस बार ऐतिहासिक तेघरा नगरी में भव्य मेला का आयोजन किया गया है। लोग मेला में शांतिपूर्ण माहौल बनाए रखें और मेला का लुफ्त उठाएं। वही अनुमंडल मुख्यालय अवस्थित मंडप एवं पुरानी ब्लॉक अवस्थित मेला मंडप का उद्घाटन विधान परिषद राजीव कुमार ने किया उद्घाटन करते हुए कहा कि मेले हमारे आपसी प्रेम और सौहार्द का संदेश देता है।

ये भी पढ़ें   वयोवृद्ध स्मृति शेष माता इंजोता देवी को दी गई श्रद्धांजलि

उन्होंने क्षेत्रवासियों से भगवान श्री कृष्ण से प्रेरणा लेकर धर्म के मार्ग पर चलने की अपील की। वही अनुमंडलीय अस्पताल अवस्थित पूजा पंडाल का उद्घाटन करते हुए तेघड़ा विधायक राम रतन सिंह ने कहा कि इस तरह के मेले का आयोजन समाज के लिए एकता और भाईचारा को दर्शाता है। साथ ही लोग मेले का आनंद भी लेते हें वहीं अनुमंडल पदाधिकारी राकेश कुमार ने उन्होंने कहा कि श्रीकृष्ण के आचरण की हम सभी को अपने जीवन में उतारने की जरूरत है।

मौके पर उपस्थित अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ओमप्रकाश ,प्रखंड विकास पदाधिकारी संदीप कुमार पांडे एवं थाना अध्यक्ष संजय कुमारएवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी रामकृष्ण ने मेले में उपस्थितों अपने संबोधन में कहा कि मेला में पुलिस प्रशासन की कड़ी व्यवस्था की गई है इस बार मेला में मनोरंजन के लिए भी बहुत सारे संसाधन आए हैं लोग मेला में पहुंचे और परिवार के साथ मेला का आनंद लें।

इसके अलावा विभिन्न मेला क्षेत्रों का अलग-अलग अतिथियों ने उद्घाटन किया। विभिन्न मेला मंडप पुणे पूजा समितियों के द्वारा आमंत्रित अतिथियों को चादर व पुष्प देख कर स्वागत किया। उल्लेखनीय है कि लंबे समय से तेघरा के इस जन्माष्टमी मेला का गौरवशाली अतीत रहा है। मथुरा वृंदावन के बाद देश में दूसरा स्थान तेघरा की ऐतिहासिक जन्माष्टमी मेला तेघड़ा का है।