December 10, 2022

मृतक शिवजी पोद्दार के परिजनों से मिले पोद्दार महासभा के शिष्टमंडल

Poddar

तेघरा ( बेगूसराय) रविवार को अन्तर्गत तेघड़ा प्रखण्ड के गौड़ा 1 पंचायत के अमनीटोला निवासी स्व० शिवजी पोद्दार के परिवार से मिलने के लिए वैश्य दलित पिछड़ा मंच तथा पोद्दार महासभा, बिहार के पदाधिकारियों का एक संयुक्त शिष्टमंडल। उनके निवास स्थान पर गया तथा हत्या के संबंध में पूछने पर मृतक की पत्नी बच्ची देवी ने कहा कि गांव के ठीकेदार विजय सिंह से हमने कुछ रूपया सूद पर लिया था, प्रत्येक महीने सूद पंहुचा देता था फिर विजय सिंह हमारे पति से बेगारी करवाता था और मारपीट भी करता था।

16 सितंबर 2022 को 10 बजे दिन में विजय सिंह मेरे पति शिवजी पोद्दार को बेगारी करवाने के लिए जबर्दस्ती ले गया ,शाम में मैं अपने पति को खोजने के लिए विजय सिंह के घर ग‌ई तो घर के लोगों ने कहा कि काम करके यहां से चला गया है । हम सपरिवार खोज रहे थे ,तब तेघड़ा थाना का जीप मेरे घर पर आया और दरोगा ने कहा कि शिवजी पोद्दार का लाश बसबिट्टी में पड़ा हुआ है, पूर्ण विश्वास है कि विजय सिंह मेरे पति को जान से मार दिया और लाश को बांस की बाड़ी में फेंक दिया।

बच्ची देवी ने प्रतिनिधि मंडल से कहा कि विजय सिंह मेरे दोनों बेटों को भी मरवा देगा, इस लिए मेरे दोनों बेटों को सुरक्षा देते हुए मेरे पति शिवजी पोद्दार के हत्यारे को फांसी की सजा दिया जाए। परिवार के सदस्यों के करुण रुदन से शिष्टमंडल के सभी सदस्यों ने सभी का आंसू पोछकर कर सांत्वना देकर विदा लिया । फिर तेघड़ा थाना के आरक्षी निरीक्षक संजय कुमार से मिला और मृतक के परिवार को सुरक्षा तथा मृतक को इंसाफ दिलाने में मदद करने के लिए कहा ।

आरक्षी निरीक्षक ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है, जैसे ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ जाएगा, कानूनी संगत कार्रवाई की जाएगी । डा० आजाद ने बिहार सरकार से पूछा कि आखिर आपके राज में अपराधियों का मनोबल इतना क्यों बढ़ा हुआ है , अपराधी बेलगाम क्यों हो रहे हैं। बिहार के मुख्यमंत्री से मांग करते हुए कहा कि पीड़ित परिवार को उचित न्याय मिले। जिलाध्यक्ष शंकर पोद्दार ने प्रशासन से मांग करते हुए कहा कि मृतक के परिवार को सुरक्षा तथा मृतक को इंसाफ दिया जाए।

युवा प्रदेश अध्यक्ष डा० आचार्य गणेश कुमार पोद्दार ने कहा कि कितना बड़ा आश्चर्य लगता है की परिवार के लोग शिवजी पोद्दार के मरने का शोक भी मना रहा है और परिवार के और सदस्यों की होने वाली हत्या के खौफ के साये में जी रहा है , प्रशासन न्याय के साथ परिवार के सुरक्षा की भी व्यवस्था करे।