बेगूसराय में कोचिंग से पढ़कर लौट रही छात्रा को दिनदहाड़े अपराधियों ने मारी गोली

डेस्क : तेघड़ा और फुलवारिया थाना क्षेत्र के सीमा पर सोमवार की सुबह में बेखौफ अपराधियों ने एक छात्रा को गोली मारकर घायल कर दिया। जिससे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। घटना फुलवड़िया एवं तेघड़ा थाना क्षेत्र के सीमावर्ती इलाका जामुन पट्टी के निकट की बताई जा रही है। बताया जाता है कि बरियारपुर बरौनी पंचायत तीन निवासी राजेश राय की 17 वर्षीया पुत्री श्वेता कुमारी एवं 20 वर्षीय पुत्र आदर्श कुमार फुलवड़िया की ओर से कोचिंग करने के बाद अपने घर वापस हो रहे थे। इसी क्रम में एक होंडा साईन मोटरसाइकिल पर सवार तीन अपराधियों ने पहले छात्रा श्वेता कुमारी पर तीन फायरिंग कर दी। जिसमें एक गोली उसके गर्दन में जा लगी।

वही उसके भाई को भी जान से मारने का प्रयास किया गया। लेकिन वह बाल-बाल बच गया। घटना के बाद अपराधी हथियार लहराते हुए चलते बने। इधर घटना के बाद स्थानीय लोगों की मदद से घायल छात्रा को निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया। जहां डॉक्टरों ने गोली को बाहर निकाल दिया है। वहीं लड़की की जान खतरे से बाहर बताई जा रही है। इधर घटना की सूचना मिलते ही तेघड़ा डीएसपी ओमप्रकाश घटनास्थल पर पहुंच मामले की जांच शुरू कर दी है। जबकि तेघड़ा एवं फुलवड़िया थाना की पुलिस क्षेत्राधिकार को लेकर आपस में उलझी हुई नजर आई। जिसके कारण फर्द बयान के बावजूद पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी करने में विलंब कर रही है। जिसके कारण परिजनों ने हंगामा भी किया।

शुरुआती जांच में मामला प्रेम प्रसंग का प्रतीत हो रहा है।हालांकि घायल लड़की के भाई आदर्श कुमार ने बताया कि मैं और मेरी छोटी बहन फुलवरिया ताराअड्डा स्थित अल्फा प्लस कोचिंग से पढ़कर दो अलग-अलग सायकिल से अपने घर वापस जा रहे थे।मैं अपने सायकिल से आगे आगे जा रहा था और मेरी बहन श्वेता पीछे थी।इसी दरमियान एक मोटरसाइकिल पर सवार तीन युवक पीछे से आकर मेरी बहन को घेर कर आगे में जाकर एक गोली गले मे मार दिया, गोली की आवाज सुनते ही जब मैं पीछे देखा तो मेरी बहन श्वेता घायल होकर सड़क पर गिरी हुई थी।और ज्यों ही मैं अपराधी को पकड़ना चाहा तो अपराधी ने मुझ पर पिस्तौल तान दिया।

जब तक ग्रामीण पहुंचे और ग्रामीणों के विरोध करने के बाद तीनों अपराधी एक ही मोटरसाइकिल पर सवार होकर बीहट की ओर फरार हो गए। गोली चलाने वाला युवक बिहट पक्का टोला निवासी जितेंद्र कुमार उर्फ ढोरों का पुत्र आदित्य कुमार एवं उसके दो साथी थे। जब हमारी बहन वर्ग अष्टम में शिशु विहार पढ़ती थी। तब ही आरोपी से जान पहचान हो गई थी। घटना के संबंध में फुलवरिया थाना प्रभारी सुमंत कुमार ने पीड़ित लड़की के भाई का फर्द बयान दर्ज कर लिया है। लेकिन प्राथमिकी दर्ज फुलवरिया थाना में होगी या तेघड़ा थाना में इसको लेकर दोनों थाना प्रभारी असमंजस में दिख रहे हैं। हालांकि पुलिस इस पूरे मामले में कुछ भी कहने से इंकार कर रहे हैं।