भगवान श्रीगणेश पूजनोत्सव को लेकर निकाली गई कलश शोभा यात्रा

kalash-shobha-yatra

भगवानपुर (बेगूसराय) विगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी प्रखंड क्षेत्र के संजात गांव स्थित टावर के सामने अवस्थित काली स्थान के परिसर में भगवान श्रीगणेश की प्रतिमा स्थापित कर श्रद्धालुओं ने सात दिवसीय पूजा अर्चना प्रारंभ की। उक्त अवसर पर उक्त परिसर में श्रद्धालुओं के द्वारा सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा का भी आयोजन किया गया है, जिसके लिए आज यानी बुधवार की सुबह लगभग आठ बजे 101 कुमारी व सुहागिन महिलाओं के द्वारा कलशयात्रा निकाली गई ।

उक्त कलशयात्रा संजात गांव स्थित बुढ़ी गंडक नदी में जल बोझकर बरकुरबा के रास्ते कोरजाना घाट पहुंचे फिर वहां से छपकी के रास्ते उक्त पूजनोत्सव परिसर में पहुंचा, जहां उपस्थित विद्वान पंडित जी महाराज के द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के बीच सभी कलश को यथास्थान स्थापित किये गये।

उक्त संबंध में आयोजक आदर्श नवयुवक गणेश पूजा समिति संजात के सचिव प्रकाश कुमार चौरसिया ने बताया कि उक्त अवसर पर आज से श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन किया गया है, जिसमें दरभंगा से पधारे कथावाचक श्री रमण जी महाराज के मुखारविंद से कलाप्रेमी सुबह और शाम दोनों बेला में कथा श्रवण का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

उक्त अवसर पर उक्त समिति के उपाध्यक्ष पंकज चौरसिया, कोषाध्यक्ष हरेराम महतो, विश्वजीत कुमार आदि उपस्थित थे, वहीं प्रखंड क्षेत्र के सतराजेपुर गांव स्थित ब्रह्मस्थान शिवमन्दिर के प्रांगण में भी विगत वर्षों की इस वर्ष भी श्रीगणेश भगवान की प्रतिमा पुरे ग्रामीण के सहयोग से स्थापित कर, तीन दिवसीय पूजा अर्चना प्रारंभ किया गया है, जिसमें सुनील कुमार, अमर कुमार, मनोरंजन झा, अभयकांत ठाकुर, धर्मराज, राजेश आदि की भूमिका उक्त पूजनोत्सव में सराहनीय रहा, वहीं प्रखंड क्षेत्र के बनवारीपुर गांव स्थित शोखास्थान के परिसर में भी भगवान श्रीगणेश की प्रतिमा उक्त अवसर पर स्थापित किये गये हैं।

ये भी पढ़ें   110 वर्षीय समाजसेवी शिवदेव साह का निधन, गांव में शोक की लहर