अपनी सांगठनिक ढांचे के पुनर्गठन व सदस्यता अभियान में जुटी बेगूसराय हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा सेक्युलर

HAM

तेघरा (बेगूसराय) हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा सेक्युलर के जिला अध्यक्ष पीयूष कुमार के नेतृत्व में पार्टी की सांगठनिक ढांचा के पुनर्गठन एवं हर स्तर पर सदस्यता अभियान की प्रक्रिया जोर शोर से चलाई जा रही है। इसी क्रम में पूर्व से गठित अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ एवं एससी – एसटी प्रकोष्ठ के सांगठनिक ढांचा को मजबूती प्रदान करने हेतु सोमवार को छौराही प्रखंड अंतर्गत शाहपुर पंचायत के बीषहर स्थान में क्षेत्रीय कार्यकर्ताओं की भारी उपस्थिति में शाहपुर निवासी राम नारायण पासवान को जिला कार्यकारिणी समिति सदस्य सह एससी एसटी प्रकोष्ठ के जिला उपाध्यक्ष के पद पर नियुक्त किया गया।

साथ ही दर्जनों कार्यकर्ताओं ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। जिला अध्यक्ष पीयूष कुमार ने बताया कि सांगठनिक ढांचा का पुनर्गठन एवं अल्पसंख्यक तथा sc-st प्रकोष्ठ को मजबूती प्रदान करने के साथ ही भारी संख्या में सदस्यता अभियान बेगूसराय में चलाई जा रही है जिला प्रकोष्ठ के नीचे के क्रम में ब्लॉक और बूथ स्तर तक इसका सांगठनिक विस्तार किया जा रहा है। इन दोनों प्रकोष्ठ समाज की समस्याओं को सरकार तक पहुंचाने तथा सरकार की ओर से विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से इन समाज को लाभान्वित करने का बड़ा माध्यम होगा। ये दोनों समाज के साथ ही अन्य समुदाय हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा पार्टी के उत्थान में बड़ी भूमिका निभाते आ रही है।

जिला प्रवक्ता माधव कुमार ने बताया कि पार्टी 7 साल के अपने कार्यकाल में हम सारे पार्टी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता को पार्टी संस्थापक सह पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष सह मंत्री संतोष कुमार सुमन के प्रति पूर्ण आस्था और विश्वास कायम है। मीडिया प्रभारी अशोक कुमार ठाकुर ने कहा कि पार्टी संस्थापक आदरणीय जीतन राम मांझी का भी सपना है सब का इरादा नेक हो। देश के गरीबों एक हो।

ये भी पढ़ें   वयोवृद्ध स्मृति शेष माता इंजोता देवी को दी गई श्रद्धांजलि

आज आवश्यकता है इनके विचारधारा को अपनाकर शोषित और वंचित समाज के अंतिम पायदान के लोगों को समाज के मुख्यधारा से जोड़कर इनके जीवन स्तर को ऊंचाई तक पहुंचाने में सभी साथी अपनी भूमिका तालाशे। मौके पर जिला महासचिव दर्शन चौधरी, जिला कार्यकारिणी सदस्य राजकुमार, तेघरा प्रखंड अध्यक्ष रूपेश कुमार महतो, छौराही प्रखंड सचिव सूरज ,नारायण पासवान, राधेश्याम भगवान पासवान, संतोष पासवान ,दिलीप पासवान, राम बहादुर पासवान के अलावे भारी संख्या में कार्यकर्ता एवं समर्थक मौजूद थे