दिवंगत शिक्षक सह साहित्यकार के पुण्यतिथि पर कवि सम्मेलन का हुआ आयोजन

Bachwara News

बछवाड़ा ( बेगूसराय ) प्रखंड क्षेत्र के चिरंजीवीपुर पंचायत के शिक्षक सह साहित्यकार आचार्य लक्ष्मी दास की प्रथम पुण्यतिथि पर शनिवार को उनके आवास पर कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। साहित्यिक एवं सांस्कृतिक संस्था अभिव्यक्ति की ओर से आयोजित समारोह के दौरान सभी अतिथियों एवं आम लोगो के द्वारा स्व दास के तैलीय चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। कवि सम्मेलन की विधिवत शुरुआत अतिथियों के द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया गया। इसमें स्व.दास को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

कवि सम्मेलन कि शुरुआत पत्रकार सह साहित्यकार चांद मुसाफिर के कविता चांद नेक नियत इमाम करे सो सांचे जीवन सदा नहीं है रहना याद रहे कविता पर लोगों ने खूब तालियां बजाई। वही कवि सह साहित्यकार डॉ.शैलेंद्र शर्मा त्यागी के कविता अभी तो दूर मंजिल है,दूर और चलना है,अभी तो जमी ही नापी है,पूरा आकाश तौलना है। को लोगो ने खूब सराहा और उनके एक से बढ़कर एक कविता पर लोगो ने खूब तालिय बजाई।कवि सम्मेलन के दौरान साहित्यकार कुशेश्वर सिंह ने कहा कि चिरंजीवीपुर के अनमोल रतन,कवियों की आंखों का तारा हे दास तुमको प्रणाम है,सौ बार हमारा। वही मानोपुर रुदौली से साहित्यकार अनिल झा की रचना कभी-कभी यूं ना जाते हैं जाते अपनी रचना छोड़ कभी कलम से निकला संग्रह काव्य एकांत के फूल। को लोगो ने खूब तारीफ किया।

वही उमेश कुंवर कवि द्वारा रचित कविता तू जुल्मी और जालिम है, कि लड़ना काम है मेरा, तू दुश्मन है गरीबों का बताना कर्म है मेरा कविता पर आये हुए लोगो के बीच मनो जोश भर दिया लोगो ने कविता सुन खूब तालियाँ बजाई ।वही मंसूरचक से पत्रकार सह साहित्यकार मिंटू कुमार झा ने कहा कि झूठा यह संसार बहुत है, फिर भी इससे प्यार बहुत है सब दौलत के पीछे भागे सबको ही दरकार बहुत है खबर इशारों पर छपती है अब ऐसे अखबार बहुत हैं। लोगों ने जमकर प्रशंसा किया।

ये भी पढ़ें   बछवाड़ा के विभिन्न गांवों में माता दुर्गा का पट खुलते हैं दर्शन को उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

कवि सम्मेलन के दौरान कवि विद्यासागर ब्रहमचारी ने कहा कि बिरज में प्रेम गीत गूंजे चहुओर,गाती है दुनिया मचाती है शोर। आदि काव्य पाठ पर झूमते रहे लोग।कवि सम्मेलन की अध्यक्षता कवि चांद मुसाफिर ने किया।कार्यक्रम के दौरान आचार्य स्व लक्ष्मी दास के व्यक्तित्व और कृतित्व पर साहित्कारो ने प्रकाश डाला। मौके पर सोनी कुमारी, पूनम देवी,प्रियंका कुमारी, अलका कुमारी,रेणुका कुमारी,कशिश कुमारी,मंच संचालन कुशेश्वर प्रसाद सिंह,धन्यवाद ज्ञापन अभिषेक कुमार ने किया। मौके पर द्दर्जनो लोग मौजूद थे।