May 17, 2022

Airtel-Jio की मनमानी खत्म! BSNL देशभर में लगाएगी 1.12 लाख टावर, फिर डबल हो जाएगी Internet Speed..

telecom towers in india

डेस्क : भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) स्वदेशी 4G नेटवर्क के रोल आउट के लिए देश भर में लगभग 1.12 लाख टावर लगाने की योजना बना रहा है। यह जानकारी दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने लोकसभा में दी। साथ ही उन्होंने ट्रेनों के अंदर इंटरनेट कनेक्शन के बारे में कहा कि यह 5G नेटवर्क शुरू होने पर ही उपलब्ध हो सकता है, क्योंकि 4G तकनीक 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली ट्रेनों में संचार बाधित करती है।

भारतीय इंजीनियरों ने विकसित किया 4G नेटवर्क : उन्होंने प्रश्नकाल के दौरान कहा, “मुझे आपको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि 4G दूरसंचार नेटवर्क जल्द ही शुरू होने के लिए तैयार है। इसे भारत में भारतीय इंजीनियरों और वैज्ञानिकों द्वारा विकसित किया गया है। हमारे 4जी नेटवर्क के विकास की पूरी दुनिया में प्रशंसा हो रही है। इसका एक कोर नेटवर्क है, एक रेडियो नेटवर्क है जिसमें संपूर्ण दूरसंचार उपकरण हैं।

कुछ महीनों में तैयार हो जाएगी 5G तकनीक : मंत्री ने कहा कि बीएसएनएल 6,000 और फिर 6,000 और टावर 4जी नेटवर्क के लिए तत्काल ऑर्डर देने की प्रक्रिया में है। इसके बाद देशभर में एक लाख टावर लगाए जाएंगे। उन्होंने यह भी बताया कि 5जी तकनीक का विकास भी चल रहा है और यह कुछ महीनों में बनकर तैयार हो जाएगा।

5G की सफलता के लिए अधिक टावरों को फाइबर से जोड़ने की आवश्यकता है : इसके अलावा, वैष्णव ने बताया कि दूरसंचार सेवा प्रदाता मोबाइल टावरों पर स्थापित अपने बेस ट्रांसीवर स्टेशनों (BTS) को फाइबराइज कर रहे हैं। 7,93,551 बीटीएस ऑप्टिकल फाइबर से जुड़े हुए हैं। यह संख्या देश में कुल मोबाइल टावरों की संख्या की तुलना में बहुत कम है। 5G सफलता और बेहतर 4G अनुभव के लिए, अधिक टावरों को फाइबर से जोड़ने की आवश्यकता है।