Rishabh Pant ने रचा इतिहास, भारत के 78 साल के टेस्ट इतिहास में ऐसा करने वाले बने पहले विकेटकीपर

Rishabh Pant

भारत व इंग्लैंड के बीच टेस्ट मुकाबला जारी है. इंग्लैंड को जीत के लिए 119 रनों की जरूरत हैं. वहीं भारत को इस मुकाबले को अपने नाम करने के लिए 7 विकेटों की आवश्कता है.

अगर भारतीय टीम यह मुकाबला जीतती है तो इसमें सबसे बड़ा श्रेय ऋषभ पंत (Rishabh Pant) का रहेगा. भारतीय टीम के इस युवा खिलाड़ी ने इंग्लैंड की सरजमी शानदार प्रदर्शन कर इतिहास रच दिया है. ऋषभ के बल्ले से भारतीय टीम की दूसरी पारी में बहुमूल्य 57 रन आए.

अगर भारतीय यह मुकाबला अपने नाम करने में कामयाब होती है तो पंत का योगदान सालों तक याद रखा जाएगा. पहली पारी के एक तरफ जहां ऋषभ ने 111 गेंदों में 146 रनों की तूफानी पारी खेलते हुए शानदार शतक बनाया था. तो वहीं दूसरी पारी में धैर्य के साथ खेलते हुए पंत ने कीमती 57 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली. इसी पारी के साथ ही वह विदेशी सरजमीं पर पहली पारी में शतक और दूसरी पारी में अर्धशतक लगाने वाले भारतीय टेस्ट क्रिकेट में पहले व एकमात्र विकेटकीपर बल्लेबाज बन गए हैं.

ऋषभ की इस पारी की सोशल मीडिया जमकर तारीफ हो रही है. साथ ही इस टेस्ट मैच में ऋषभ पंत के बल्ले से 200 रन आए हैं. भारतीय टीम अगर इंग्लैंड के खिलाफ अच्छा लक्ष्य रखने में कामयाब हुई तो उसमें ऋषभ पंत का अहम योगदान रहा. अगर भारतीय टीम यह मुकाबला जीतने में कामयाब होती है और ऋषभ पंत को मैन ऑफ द मैच बनाया जाता है तो इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी. ऋषभ की पारी की बदौलत भारतीय टीम इंग्लैंड के सामने यह लक्ष्य रखने में कामयाब हुई है. सोशल मीडिया पर ऋषभ की इस पारी की काफी सराहना हो रही हैं. क्रिकेट फैंस ऋषभ पंत की तारीफों के पुल बांध रहे हैं.

ये भी पढ़ें   जिम्बाब्वे में इशान किशन से मिलने पहुंचा भारतीय फैन कहा, “ पटना से हूं, आपके दोस्त को जानता हूं” देखें Video

चौथे दिन का खेल समाप्त होने तक इंग्लैंड की टीम के 200 रन पर 3 विकेट गिर गए थे. इंग्लैंड की टीम को जीत के लिए 119 रनों की जरूरत है तो वहीं भारतीय टीम को जीत के लिए सात विकेटों की आवश्यकता है. भारतीय टीम सीरीज में 2-1 से आगे हैं.अगर भारतीय टीम यह मुकाबला जीतती है तो सीरीज पर कब्जा करने में कामयाब होगी वहीं अगर यह मुकाबला इंग्लैंड के नाम रहा तो सीरीज 2-2 से बराबर हो जायेगी.