Happy Birthday Ravi Shashtri: 60वां जन्मदिन मना रहे हैं रवि शास्त्री, सोशल मीडिया पर मिल रही हैं शुभकामनाएं

Player Khiladi

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री का आज जन्मदिन है। रवि शास्त्री आज 60 वर्ष के हो गए है। सोशल मीडिया पर पूर्व क्रिकेटर, साथी खिलाड़ी व फैंस शास्त्री को उनके जन्मदिन पर बधाई दे रहें हैं।रवि शास्त्री साल 2017 से 2021 तक भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के पद पर कार्यरत थे। रवि शास्त्री 1983 वर्ल्ड कप विनिंग टीम का हिस्सा रहें हैं। कपिल देव की अगुआई में वर्ल्ड कप विजेता टीम में रवि शास्त्री भी शामिल थे।

शास्त्री ने भारतीय टीम के लिए साल 1981 से 1992 तक क्रिकेट खेला। रवि शास्त्री ने 80 टेस्ट मैच वहीं 150 वनडे मुकाबले खेलें हैं। रवि शास्त्री ने 21 फरवरी 1981 में न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू वहीं 25 नवंबर 1981 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया।शास्त्री ने आखिरी टेस्ट मुकाबला 26 दिसंबर 1992 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला जबकि आखिरी वनडे मैच भी 17 दिसंबर 1992 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला।

80 टेस्ट मैचों व 150 वनडे मुकाबले में रविशास्त्री ने 6938 रन बनाए है वहीं गेंद से शानदार प्रदर्शन करते हुए 280 विकेट झटके है। सुनील गावस्कर की अगुआई में वर्ल्ड चैंपियनशिप टूर्नामेंट में रवि शास्त्री प्लेयर ऑफ द सीरीज रहे हैं। वेस्ट इंडीज के क्रिकेटर सर गैरी सोबर्स के बाद एक ओवर में 6 छक्के लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज व पहले भारतीय खिलाड़ी थे। रणजी ट्रॉफी में मुंबई के लिए खेलते हुए शास्त्री ने बड़ौदा के खिलाफ एक ओवर में 6 छक्के जड़ दिए थे।

भारतीय क्रिकेट टीम के हेड कोच के रूप में रवि शास्त्री ने कई उपलब्धियां हासिल की है। शास्त्री के कार्यकाल में भारत ने बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी जीती। ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में दो बार हराकर टेस्ट सीरीज जीती। भारत वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल तक पहुंची। इंग्लैंड के खिलाड़ी इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज में 2- 1 से सीरीज में बढ़त बनाई।रवि शास्त्री के जन्मदिन के मौके पर क्रिकेट जगत के सभी बड़े खिलाड़ी व क्रिकेट के चाहने वाले दर्शक सोशल मीडिया पर रवि शास्त्री को जन्मदिन की बधाई से रहे हैं।

ये भी पढ़ें   Eng Vs NZ: विकेटकीपर के हाथ से छूटा तो पैरों से पकड़ा यह अनोखा कैच -देखें वीडियो

रवि शास्त्री हेड कोच का पद छोड़ने के बाद IPL में कमेंट्री कर रहे है। वह भारत के बेहतरीन कॉमेंटेटर में से एक है। 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में धोनी के आखिरी छक्के पर रवि की लाइंस दर्शकों के दिलों में अब तक बसी हुई है।