नामुमकिन है इन पांच क्रिकेट रिकॉर्ड्स का टूटना, जानिए 5 अनोखे क्रिकेट रिकॉर्ड के बारे में

5 Records of Cricket.jpg

क्रिकेट के खेल में नए व पुराने रिकॉर्ड टूटते बनते रहते हैं. लेकिन कुछ ऐसे रिकॉर्ड भी हैं जिनका टूट पाना शायद ही संभव है. क्रिकेट में कुछ ऐसे रिकॉर्ड भी कायम हुए हैं जिनको तोड़ पाना लगभग नामुमकिन है. चाहे वह गेंदबाज हों, बल्लेबाज हों या फिर फिल्डर, गेंद व बल्ले से हर किसी का यही प्रयास होता है कि वह कुछ ना कुछ नया कर सके. कई ऐसे रिकॉर्ड में है जिनको तोड़ पाना फिलहाल तो नामुमकिन जैसा लगता है. हम आपको ऐसे ही 5 रिकॉर्ड के बारे में बताने जा रहे हैं.

1. सचिन तेंदुलकर का एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में रन

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर(Sachin Tendulkar)दुनिया के सबसे महान बल्लेबाज हैं. उन्हें क्रिकेट का भगवान कहा जाता है. सचिन के द्वारा बनाए गए रिकॉर्ड इस बात के गवाह है कि आखिर क्यों उन्हें क्रिकेट का भगवान माना जाता है. सचिन तेंदुलकर के एकदिवसीय मैच में सबसे ज्यादा रन 18426 रन. वैसे तो इस रिकॉर्ड को तोड़ पाना एकदम नामुमकिन सा लगता है. इस लिस्ट में बाकी के बल्लेबाज सचिन से काफी पीछे हैं. क्रिकेट इतिहास में सचिन तेंदुलकर के नाम अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे ज्यादा 100 शतक है.

2. मुरलीधरन के सबसे ज्यादा विकेट

भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के नाम सबसे ज्यादा रनों का रिकॉर्ड है. ठीक उसी तरह श्रीलंका के दिग्गज स्पिनर मुथैया मुरलीधरन(Mutthya Murlidharan) के पास सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड है. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों में मुथैया मुरलीधरन ने 1347 विकेट लिए हैं. उन्हें गेंदबाज़ी का भगवान भी कहा जा सकता है.

3. डॉन ब्रैडमैन के 99 रनों की औसत

ये भी पढ़ें   जिम्बाब्वे में इशान किशन से मिलने पहुंचा भारतीय फैन कहा, “ पटना से हूं, आपके दोस्त को जानता हूं” देखें Video

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन(Don Bradman) के नाम एक ऐसा खास रिकॉर्ड है जिसका टूट पाना नामुमकिन है। एक बार को मान लिया जाए कि सचिन के शतकों का रिकॉर्ड भी तोड़ा जा सकता है पर ब्रैडमैन की रिकॉर्ड तक पहुंचना असंभव है. ब्रैडमैन का टेस्ट क्रिकेट में 99.94 की औसत का रिकॉर्ड शायद कभी नहीं तोड़ा जा सकता. सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली(Virat Kohli) जैसे बल्लेबाज इसके आसपास भी नहीं है.

4. नाइट वॉचमैन ने लगाई थी डबल सेंचुरी

नाइट वॉचमैन तब बल्लेबाजी करने आता है जब दिन खत्म होने पर टीम अपने मुख्य बल्लेबाज से बल्लेबाज का विकेट बताना चाह रही हो. लेकिन हम आपको बताएं कि एक नाइट वॉचमैन ने डबल सेंचुरी भी लगाई है. जी हां 2006 में चटगांव में खेले गए एक टेस्ट मैच के दौरान ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जेसन गिलेस्पी ने नाइटवॉचमैन के तौर पर नाबाद 201 रनों की पारी खेली थी.

5. एक टेस्ट में 19 विकेट लेने का रिकॉर्ड

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के दिग्गज गेंदबाज जिम लेकर ने 1956 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक टेस्ट मैच में 19 विकेट लिए थे. यह एक ऐसा रिकॉर्ड है जिसका तोड़ पाना बिल्कुल नामुमकिन है इस रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए किसी भी गेंदबाज को एक टेस्ट मैच में 20 विकेट हासिल करने होंगे.