नो बॉल पर मिले बुमराह को दो विकेट खुद, Bumrah भी नहीं कर पाए यकीन

test cricket

क्रिकेट के खेल में आमतौर पर नो बॉल बॉलिंग टीम के लिए नुकसान मानी जाती है. तो वहीं इससे बैटिंग टीम का फायदा होता है. लेकिन शनिवार को भारत व इंग्लैंड के बीच चल रहे टेस्ट मैच में नो बॉल भारतीय कप्तान जसप्रीत बुमराह(Jasprit Bumrah) के लिए यह लकी साबित हुई. नो बॉल के कारण बुमराह को बोनस में 2 विकेट मिल गए.

आमतौर पर नो बॉल पर बल्लेबाज को केवल रन आउट किया जा सकता है. लेकिन भारत बनाम इंग्लैंड टेस्ट मुकाबले में नो बॉल के कारण जसप्रीत बुमराह बुमराह को दो विकेट मिले जिस पर वह खुद भी यकीन नहीं कर पा रहे थे. भारतीय टीम ने पहली पारी में बल्लेबाजी करते हुए कुल 416 रन बनाए. दूसरे दिन स्टंप होने तक भारत ने इंग्लैंड के 5 विकेट गिरा दिए थे. भारतीय कप्तान जसप्रीत बुमराह ने 3 विकेट झटके जिनमें से 2 विकेट नो बॉल के कारण आएं है. ओवर की आखिरी गेंद नो बॉल हो गई जिसके चलते उन्हें एक और गेंद डालनी पड़ी.

ओली पोप को बनाया शिकार

न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में अच्छा प्रदर्शन कर रहे ओली पोप (Oli Pope) ओवर की आखिरी गेंद पर जसप्रीत बुमराह के विकेट थमा बैठे. 11वें ओवर की आखिरी गेंद पर बुमराह ने पोप को आउट किया. उन्होंने ओवर की आखिरी गेंद नो बॉल फेंकी जिसके कारण उन्हें एक और गेंद डालनी पड़ी. दो बार नो बॉल के कारण विकेट मिलने पर खुद कप्तान बुमराह भी यकीन नहीं कर पा रहे थे. विकेट मिलने के बाद उन्होंने अविश्वसनीय हंसी के हाव भाव दिए. बुमराह ने 11वें ओवर की आखिरी गेंद ऑफ स्टंप से बाहर डाली, पोप उसे ड्राइव करना चाहते थे. बल्ले का बाहरी किनारा लेकर गेंद स्लिप में खड़े श्रेयस अय्यर के पास चली गई और पोप कैच आउट होकर वापस पवेलियन लौट गए.

टॉप ऑर्डर को दिखाया पवेलियन का रास्ता

जसप्रीत बुमराह के पेस अटैक के सामने इंग्लैंड का टॉप ऑर्डर फेल हो गया. मात्र 84 रनों पर इंग्लैंड ने अपने 5 विकेट गंवा दिए हैं. बुमराह ने सबसे ज्यादा 3 विकेट झटके वहीं मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज को एक-एक विकेट मिला. इससे पहले बुमराह ने बल्लेबाजी में भी कमाल किया था. उन्होंने अपने कप्तानी डेब्यू पर बल्ले से 31 रन जड़े थे. स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में 29 रन जड़कर बुमराह ने इतिहास रच दिया है. वह टेस्ट मैच में एक ओवर में सबसे ज्यादा 29 रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं.