पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने विराट कोहली पर जताया भरोसा कहा- ‘T20 वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन करेंगे विराट’

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने विराट कोहली पर जताया भरोसा कहा- ‘T20 वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन करेंगे विराट’ 1

विश्व क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक विराट कोहली(Virat Kohli) ने एशिया कप में धमाकेदार शुरुआत की है. पहले मुकाबले में पाकिस्तान के खिलाफ कोहली अच्छे टच में नजर आए तो वही हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ उन्होंने अर्धशतकीय पारी खेली.

हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ छह महीनों के लंबे अंतराल के बाद विराट कोहली ने टी-20 क्रिकेट में अर्धशतक लगाया. ऑस्ट्रेलियाई पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) का मानना है कि विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया में होने वाले आईसीसी टी20 क्रिकेट विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करते नजर आएंगे.

करियर के खराब दौर से गुजर रहे विराट कोहली ने लगभग डेढ़ महीने के ब्रेक के बाद क्रिकेट मैदान पर वापसी की है. आईसीसी रिव्यू शो में होस्ट संजना गणेशन(Sanjana Ganeshan) से बात करते हुए रिकी पोंटिंग ने कहा,“विराट को रन बनाते देख कर अच्छा लगा। इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि उन्होंने ज्यादातर रन चेज करते हुए बनाए हैं. उनका रिकॉर्ड बताता है कि जब उनकी टीम रनों का पीछा कर रही होती है तो वह और भी बेहतर खेल दिखाते हैं.”

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने आगे कहा, “ऐसा लगता है कि फॉर्म में आने के लिए कई सारी चीजों के बारे में सोचना शुरू किया होगा. वह फिर से बेहतर महसूस करने लगे हैं. मुझे उम्मीद है कि हम उन्हें टी20 क्रिकेट विश्व कप में अपना सर्वश्रेष्ठ करते हुए देखेंगे मैं चाहता हूं कि विराट यहां ऑस्ट्रेलिया में रन बनाकर टूर्नामेंट में अग्रणी खिलाड़ियों में से एक बने.”

ये भी पढ़ें   ‘शाहीन अफरीदी को नहीं खेलना चाहिए वर्ल्ड कप’, पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर का चौंकाने वाला बयान

पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले से पहले विराट कोहली ने स्टार नेटवर्क को दिए गए एक इंटरव्यू में कहा था कि खराब फॉर्म से बाहर आने के लिए उन्होंने कड़ी मेहनत की है जिसके लिए वह मैदान में जाने जाते हैं. कोहली ने साल 2019 के बाद से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एक भी शतकीय पारी नहीं खेली है.

पोंटिंग ने याद किया कि उनके कैरियर के बाद के वर्षों के दौरान फॉर्म के लिए उनके अपने संघर्षों के साथ समानताएं थी. वह एक ऐसा चरण था जहां कोहली इस समय पर हैं. पोंटिंग ने आगे कहा, “हर खिलाड़ी उस दौर से गुजरता है जब चीजें ठीक नहीं होती है और आप रन नहीं बना रहे होते हैं तो खेल अचानक बहुत कठिन लगता है. मैंने अपने करियर के आखिरी कुछ वर्षों में इसका सामना किया है. जहां मेरा करियर काफी तेजी से नीचे गिर रहा था मैं जितनी मेहनत करता उसका फल मुझे नहीं मिल पाता था.”