Friday, July 19, 2024
Railway News

क्या बिना टिकट ट्रेन में चढ़ गए? फिक्र मत करिए अब TTE भी नहीं रोकेगा! जानें- ये नियम…..

Indian Railway Ticket Rules : रेलवे में सफर करना हर किसी के लिए अब आसान हो गया है क्योंकि घर बैठे ही लोग आजकल ऑनलाइन टिकट बुकिंग करवा लेते हैं। हालांकि भारतीय लोगों को ज्यादा रेलवे (Railway) का सफर ही पसंद आता है क्योंकि यह अधिक सुविधाजनक और आरामदायक है। लंबे सफर के लिए लोग अक्सर रेलवे को ही पहला ऑप्शन चुनते है।

ऑनलाइन टिकट बुकिंग की सुविधा होने के बाद भी कई सारे लोग ऐसे हैं जो रेलवे (Railway) प्लेटफार्म पर जाकर टिकट काउंटर से टिकट लेते हैं। लेकिन अगर यात्रा शुरू करने से पहले ही आपका टिकट कहीं खो जाए तो आप क्या करेंगे? शायद आपको आखिरी वक्त में दूसरी टिकट खरीदनी पड़ेगी।

लेकिन आपको घबराने की जरूरत नहीं है और ऐसा करने की भी कोई जरूरत नहीं है। अगर आप ऐसी स्थिति में रेलवे (Railway) के नियमों का पालन करते हुए चलेंगे तो आपको ट्रेन में भी कोई TTE परेशान नहीं करेगा। तो चलिए आपको बताते हैं की ट्रेन की टिकट खोने पर रेलवे के नियम क्या कहते हैं?

काउंटर टिकट है जरूरी

अगर आप रेलवे काउंटर से टिकट लेते हैं तो यह टिकट आपके पास जरूर होनी चाहिए। रेलवे (Railway) के नियमों के अनुसार अगर आप कहीं की यात्रा कर रहे हैं तो आपके पास अकाउंट टिकट होना जरूरी है। अगर आप काउंटर टिकट के बिना यात्रा करते हैं तो आपके ऊपर TTE द्वारा जुर्माना लगाया जा सकता है और आपके खिलाफ कार्रवाई भी की जा सकती है।

ऐसी हालत में क्या करेंगे?

आपकी ट्रेन की टिकट खो जाती है तो चेकिंग के दौरान आपको TTE को IRCTC के ऐप में जाकर अपने कोच और बर्थ का मैसेज दिखाना होगा। रेलवे (Railway) द्वारा बनाया गया टिकट आपके मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी से जुड़ा हुआ होता है। आप चाहे तो अपने मोबाइल नंबर पर आए हुए PNR नंबर भी TTE को दिखा सकते है। इससे भी आपकी सीट और कोच का पता चल जाता है।

कैसे बनवाएंगे नया टिकट

अगर आपका टिकट खो जाता है और आपके पास स्मार्टफोन भी नहीं है जिसमें आप अपना टिकट दिखा सके तो आपको डुप्लीकेट टिकट बनवाना होगा। इसके लिए आपको ज्यादा नहीं 50 से 100 रुपये टिकट के देने होंगे। लेकिन टिकट खोने के तुरंत बाद ही आपको TTE से बात करनी होगी। पूरी जानकारी देने के बाद TTE आपका नया टिकट बना देगा।

ऑनलाइन या ऑफलाइन कौनसी टिकट के है फायदे

ऑफलाइन टिकट का रेलवे प्लेटफार्म के टिकट काउंटर से ले सकते हैं और ऑनलाइन टिकट आपको बुक करवानी होती है। हालांकि ऑफलाइन टिकट लेने के बाद आपको यात्रा करना जरूरी है और अगर आप यात्रा नहीं करते हैं तो आपके टिकट के पैसे खराब हो जाते हैं। दूसरी तरफ अगर आप ऑनलाइन टिकट बुक करवाते हैं और सफर नहीं करते हैं तो आपको टिकट कैंसिल करनी होती है। ऑनलाइन टिकट कैंसिल करवाने पर आपको रिफंड मिलता है और इसके आगे में थोड़ा चार्ज काटा जाता है।

Durga Partap

दुर्गा प्रताप पिछले 1 सालों से बतौर Editor में के रूप में thebegusarai.in से जुड़े। इन्हें बिजनेस, ऑटोमोबाइल्स और खेल जगत से जुड़ी खबरे को गहराई से लिखने में काफी दिलचस्पी है। पिछले 5 साल से वह कई समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में लगातार योगदान देते रहे हैं। दुर्गा ने MDSU से BCA की पढ़ाई पूरी की है।